Tokyo Olympics 2020: इतिहास रचने से चूकीं गोल्फर अदिति अशोक

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

टोक्यो में खेले जा रहे ओलंपिक खेलों के 15वें दिन भारत की झोली में एक और पदक आते-आते रह गया। भारत की अदिति अशोक ओलंपिक खेलों की गोल्फ स्पर्धा में खराब मौसम से प्रभावित चौथे दौर में तीन अंडर 68 का स्कोर करके चौथे स्थान पर रहीं। अदिति का कुल स्कोर 15 अंडर 269 रहा और वे दो स्ट्रोक्स से पदक जीतने से चूक गईं। ओलंपिक में ऐतिहासिक पदक के करीब पहुंची अदिति ने सुबह दूसरे नंबर से शुरुआत की थी, लेकिन वे बाद में पिछड़ गईं।

रियो ओलंपिक में 41वें स्थान पर रहीं अदिति ने हालांकि शानदार प्रदर्शन किया है। आखिरी दौर में उन्होंने पांचवें, छठे, आठवें, 13वें और 14वें होल पर बर्डी लगाया और नौवें तथा 11वें होल पर बोगी किए। दुनिया की नंबर एक गोल्फर नैली कोरडा ने दो अंडर 69 के साथ 17 अंडर कुल स्कोर करके गोल्ड मेडल जीता। जापान की इनामी मोने फाइनल राउंड में न्यूजीलैंड की लिडिया केओ को पीछे छोड़ कर सिल्वर मेडल हासिल करने में कामयाब रहीं। लिडिया को ब्रॉन्ज मेडल से संतोष करना पड़ा। 

भारत की दीक्षा डागर भी कुछ खास नहीं कर पाईं और 5०वें स्थान पर स्पर्धा समाप्त की। गोल्ड मेडल विजेता नेली कोरडा की बहन ने अच्छा प्रदर्शन किया। वह 14वें स्थान पर रहीं। तूफान के कारण कुछ समय खेल बाधित रहा जब 16 होल पूरे हो चुके थे। अदिति पूरे समय पदक की दौड़ में थीं, लेकिन दो बोगी से वे को से पीछे रह गईं, जिन्होंने आखिरी दौर में नौ बर्डी लगाए।

बता दें कि इस बार अदिति ने क्वालीफाइंग लिस्ट में 45वें स्थान पर रहते हुए टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफाई किया था। टोक्यो ओलंपिक अदिति का दूसरा ओलंपिक है। इससे पहले वह रियो ओलंपिक में भी भाग ले चुकी हैं। ​हालांकि वहां वे 41वें स्थान पर रही थीं।


Popular posts
मुझ पर दोस्तों का प्यार, यूँ ही उधार रहने दो |
Image
चिट्टियां कैसे लिखी जाती थी
Image
राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वाधान में व प्रभारी जिला जज/ अध्यक्ष विधिक सेवा प्राधिकरण के मार्गदर्शन में आजादी अमृत महोत्सव हुआ कार्यक्रम
Image
70 साल की उम्र में UP विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष सुखदेव राजभर ने ली अंतिम सांस, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, अखिलेश यादव ने जताया शोक
Image
असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा, रोज़गार और कल्याणकारी योज़नाओं का लाभ उठाने ई-श्रमिक पोर्टल पर पंजीकरण मील का पत्थर साबित होगा
Image