घर में आएगी सुख-समृद्धि, पितरों को खुश करने के लिए करें ये काम

 युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

पितृपक्ष के श्राद्ध शुरु हो चुके हैं। ऐसा माना जाता है कि पितृ पक्ष के दौरान पूर्वज धरती पर आते हैं और अपने परिजनों को आशीर्वाद देते हैं। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, पितृ पक्ष के श्राद्ध भाद्रपद महीने की शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को शुरु होते हैं और अमावस्या की तिथि को समाप्त होते हैं। इस दौरान यदि आप भी अपने पितरों को आशीर्वाद पाना चाहते हैं तो कुछ उपाय कर सकते हैं। वास्तु शास्त्र में ऐसे कुछ उपाय बताए गए हैं जिनसे आपके पितर प्रसन्न हो सकते हैं। तो चलिए जानते हैं इन उपायों के बारे में...

दक्षिण दिशा में लगाएं पितरों की तस्वीर 

वास्तु मान्यताओं के अनुसार, यदि आप घर में पितरों की तस्वीर लगाते हैं तो इसे सही दिशा में लगाना चाहिए। गलत दिशा में पितरों की तस्वीर लगाने से नेगेटिव प्रभाव पड़ सकता है। दक्षिण दिशा में आप पितरों की तस्वीर लगा सकते हैं। इस दिशा में तस्वीर लगाना शुभ माना जाता है। 

ब्राह्मणों को करवाएं भोजन 

पितृ पक्ष में ब्राह्मणों को भोजन करवाना भी बहुत ही शुभ माना जाता है। यह भोजन आप सात्विक और धार्मिक विचार वाले ब्राह्माणों को ही करवाएं। इसके अलावा पितृ पक्ष में पशु पक्षियों को जल देना भी बहुत ही लाभदायक माना जाता है। इससे पितृगण आपसे संतुष्ट होंगे। 

रोज जलाएं दीपक 

पितृपक्ष में आप रोज सुबह अपने घर के मुख्य द्वार पर घी का दीपक जलाएं। शाम के समय आप यह दीपक घर की दक्षिण दिशा में जलाएं। इसके अलावा अपने मुख्य द्वार को हमेशा साफ रखें और नियमित तौर से मुख्य द्वार पर जल डालें। 

न कटवाएं बाल 

पितृ पक्ष के दौरान बाल कटवाना भी अशुभ माना जाता है। इसके अलावा इन दिनों कोई नया कार्य या मंगल कार्य का आयोजन भी नहीं करना चाहिए। इससे पितर आपसे नाराज हो सकते हैं।