लीड बैंक द्वारा आयोजित किया गया कृषि ऋण वितरण कैम्प

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

बहराइच । जनपद के अग्रणी बैंक इंडियन बैंक द्वारा स्थानीय हरियाली रिसोर्ट में एक दिवसीय कृषि ऋण वितरण कैम्प का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि इण्डियन बैंक कॉरपोरेट कार्यालय, चेन्नई  के महाप्रबंधक चन्द शेकरन वी0 जी उपस्थित रहे। कार्यक्रम मंे परियोजना निदेशक, प्रेम नाथ यादव, जिला कृषि अधिकारी, सतीश कुमार पाण्डेय, डी० डी० एम० नाबार्ड, श्री एम0 पी0 बरनवाल, के साथ-साथ मण्डल प्रमुख, इण्डियन बैंक, रविन्द्र सिंह, अग्रणी जिला प्रबन्धक, अमित गौरव सहित मण्डलीय कार्यालय के अधिकारी कर्मचारी व अन्य सम्बन्धित मौजूद रहे। कैम्प का अतिथियों द्वारा दीप प्रज्जवल्लित कर शुभारम्भ किया गया।

मुख्य अतिथि एवं अन्य सम्मानित अतिथियों के साथ-साथ उपस्थित सभी ग्राहकों द्वारा बैकों, आरसेटी व महिला स्वयं सहायता समूह के द्वारा लगाये गये स्टाँलो का भ्रमण किया गया जिनमें बैंकों व विभागों के विभिन्न उत्पाद प्रदर्शित थे। श्री चन्द्रशेकरन वी0, कॉरपोरेट महाप्रबंधक, इण्डियन बैंक द्वारा सभा की अध्यक्षता की गई। महाप्रबंधक श्री चन्द्र शेकरन वी0 जी ने सभा को सबोधित करते हुए बैंक की विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी।

 यह भी कहा कि बैंक ने हाल ही में प्रोद्योगिकी तकनिक की दिशा में काफी कार्य किया है जिससे ग्राहकों को बहुत सी सुविधाए आसानी से प्राप्त हो रही है। इण्डियन बैंक में निजी बैंकों की तरह तकनिकी सभी सुविधाएं उपलब्ध है। उनके द्वारा अवगत कराया गया कि व्यवसाय शुरू करने के लिए, अपने व्यवसाय को बढकर 79 प्रतिशत से अधिक हो गया है। यह देश के कई विकसित राज्यों के साथ-साथ अपने उत्तर प्रदेश एवं देश के औसत ऋण से काफी अधिक है।

 यह उपलब्धि और भी अधिक महत्वपूर्ण हो जाती है जब इसकी तुलना आंकांक्षात्मक जनपदों के मध्य की जाती है। इसका पूरा श्रैय उन्होंने जनपद के जिलाधिकारी महोदय के कर्मठ नेत्त्व शैली, मुख्य विकास अधिकारी महोदया की अनवरत मॉनिटरिंग एवं जनपद के सभी बैंकों खासकर अग्रणी बैंक के अधिकारियों/कर्मचारियों को दिया। उन्होंने यह भी अवगत कराया कि विगत दो वर्षों में उनके कार्यकाल के दौरान तीन बार वित्तीय समावेशन के क्षेत्र में जनपद नीति आयोग की डेल्टा रैंकिग में तीन बार टॉप 10 रैंकिंग में अपना स्थान बनाया है जिसमें एक बार द्वितीय स्थान पाने के लिए 5 करोड़ रूपये का नगद पुरस्कार नीति आयोग द्वारा प्रदान किया गया है।