वास्तु के अनुसार घर की इस दिशा में लगाएं मछलियों का जोड़ा, बनी रहेगी पॉजिटिव एनर्जी

 युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

घर में रखी हुई छोटी से छोटी चीज का वास्तु शास्त्र के अनुसार, बहुत ही महत्व होता है। यदि व्यक्ति की राशि में ग्रह कमजोर हो तो घर और कार्यस्थल में हर समय नेगेटिव एनर्जी रहती है। मान्यताओं के अनुसार, घर की नेगेटिव एनर्जी का दूर करने के लिए मछलियों का जोड़ा घर में लटकाना चाहिए। इससे व्यक्ति के सौभाग्य में भी वृद्धि होती है। वास्तु और फेंगशुई शास्त्र के अनुसार, मछलियों का जोड़ा घर और कार्यस्थल की नेगेटिव एनर्जी को पॉजिटिव एनर्जी में बदलता है। मछलियों का जोड़ा घर में रखने से व्यक्ति के निर्णय लेने की क्षमता और मानसिक शक्ति में भी वृद्धि होती है। इसे घर की किस दिशा में रखना चाहिए। आज आपको इसके बारे में बताएंगे। तो आइए जानते हैं इसके बारे में...

उत्तर दिशा में

मछली की तस्वीर घर की उत्तर-पूर्व दिशा में लगानी चाहिए। अगर आप एक्वेरियम घर में रख रहे हैं तो उत्तर पूर्व दिशा या फिर पूर्व दिशा में रखें। आप ड्राइंग रुम में पूर्व या उत्तर-दिशा में गोल्डन फिश रखें। इस दिशा में गोल्डन फिश रखना बहुत ही शुभ मानी जाती है। 

परिवार के सदस्यों का चमकेगा भाग्य 

वास्तु शास्त्र के अनुसार, मछली के जोड़े को सही दिशा में  टांगने से घर में पॉजिटिव प्रभाव पड़ता है। आप घर के ईशान कोण में मछली का जोड़ा लटकाएं। इससे घर के सदस्यों का  भाग्योदय होगता है। इसके अलावा दुकान में मछलियों का जोड़ा लटकाने से आय में भी बढ़ोतरी होती है। 

दो मछलियों वाला एक्वेरियम रखें 

फेंगशुई शास्त्र में गोल्ड फिश को सबसे ज्यादा पवित्र और संपन्नता देने वाला माना जाता है। आप घर में दो मछलियों वाला छोटा एक्वेरियम घर में रख सकते हैं। यह एक्वेरियम घर में प्यार का प्रतीक माना जाता है। इसके अलावा आप क्रिस्टल की मछलियों वाला जोड़ा भी बेडरुम में रख सकते हैं। 

मछलियों की मूर्ति

अपने घर में आप पीतल या चांदी से बनी मछली की मूर्ति भी घर में रख सकते हैं। इस मूर्ति से आपके घर में खुशहाली आती है और शांति भी बनी रहती है। मछली का जोड़ा उन्नति के रास्ते भी खोलता है। इसके अलावा घर में अच्छे स्वास्थ्य का भी संचार करता है। 

रंग-बिरंगी मछलियां

घर में रंग-बिरंगी मछलियां पालने से परिवार पर आने वाली मुसीबतें टल जाती है। इसके अलावा घर के सदस्यों की सेहत भी एकदम अच्छी रहती है। ऐसा माना जाता है कि यदि शुभ अवसरों पर मछली के दर्शन करके जाएं तो किसी भी शुभ कार्य में बाधा नहीं आती।