जनपद न्यायाधीश को डीएम ने भेंट की ‘‘काल-प्रेरणा’’

 युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

बहराइच : जनपद में 13 अगस्त 2022 को आयोजित होने वाले राष्ट्रीय लोक अदालत को सफल बनाये जाने के उद्देश्य से जनपद न्यायाधीश उत्कर्ष चतुर्वेदी की अध्यक्षता में दीवानी न्यायालय में बैठक सम्पन्न हुई। बैठक के दौरान जनपद न्यायाधीश श्री चतुर्वेदी ने सभी अधिकारियों को पिछले राष्ट्रीय लोक अदालत से अधिक संख्या में वादों का निस्तारण आगामी राष्ट्रीय लोक अदालत में किये जाने की अपेक्षा की गयी। समस्त अधिकारियों से लोक अदालत को सफल बनाने के सम्बन्ध में आवश्यक जानकारी प्राप्त करते हुए महत्वपूर्ण सुझाव भी प्रदान किये गये।

जनपद न्यायाधीश ने कहा कि लोगों को जानकारी दी जाय कि 13 अगस्त 2022 को आयोजित होने वाले राष्ट्रीय लोक अदालत के माध्यम से जनपद न्यायालय में लम्बित आपराधिक शमनीय वाद, धारा 138 पराक्रम्य लिखित अधिनियम, बैंक वसूली वादों, मोटर दुर्घटना प्रतिकर याचिकाएं, वैवाहिक वादों, श्रम वादों, भूमि अधिग्रहण वादों, विद्युत एवं जल बिल विवाद (चोरी से सम्बन्धित विवादों सहित), सर्विस में वेतन सम्बन्धित विवाद सेवानिवृत्तिक लाभों से सम्बन्धित विवाद, अन्य सिविल वादों (किराया, सुखाधिकार, व्यादेश, विशिष्ट अनुतोष वाद) तथा प्रीलिटीगेशन धारा 138 पराक्रम्य लिखिल अधिनियम, बैंक वसूली, टेलीफोन बिल्स प्रकरणों, श्रम विवादो विद्युत एवं जल बिल विवाद, अन्य अपराधिक शमनीय वाद, वैवाहिक व अन्य सिविल वादों का अधिकाधिक संख्या में निस्तारण किया जायेगा। आमजनमानस को सुझाव दिया जाय कि 13 अगस्त 2022 को को आयोजित होने वाली राष्ट्रीय लोक अदालत में अधिकाधिक संख्या में वादों को नियत करवाकर राष्ट्रीय लोक अदालत का अधिकाधिक लाभ उठायंे।

बैठक के अन्त जिलाधिकारी डॉ. दिनेश चन्द्र ने जनपद न्यायाधीश को स्वरचित पुस्तक ‘‘काल-प्रेरणा’’ की प्रति भेंट की। इस अवसर पर न्यायिक अधिकारी, पुलिस अधीक्षक केशव कुमार चौधरी सहित सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहे।