रिलीज हुआ खेसारी लाल यादव और आम्रपाली दुबे की 'डोली सजा के रखना' फिल्म का ट्रेलर

 युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

खेसारी लाल यादव और आम्रपाली दुबे की मोस्ट अवेटेड फिल्म 'डोली सजा के रखना' का फैंस काफी समय से इंतजार कर रहे हैं। फाइनली अब फिल्म का ट्रेलर भी रिलीज हो गया है। ट्रेलर एसआरके म्यूजिक यूट्यूब चैनल से रिलीज हुआ और इसे काफी अच्छा रिस्पॉन्स मिल रहा है। फैंस ट्रेलर की खूब तारीफ कर रहे हैं। 3 मिनट 25 सेकेंड के इस ट्रेलर की शुरुआत में ही खेसारी लाल यादव से होती है जो मारपीट करते नजर आते हैं और उनके पिता उनसे परेशान दिखते हैं। इतना ही नहीं इसी लड़ाई के चक्कर में खेसारी को जेल भी जाना पड़ता है। उनके पिता फिर जेल जाते हैं और पुलिस से कहते हैं कि आप पैसे ले लो। पुलिस वाला पूछता है कि किस चीज के लिए तो वह कहते हैं कि इसे अंदर ही रखने के लिए। 

इसके बाद होती है आम्रपाली दुबे की एंट्री जो खेसारी से डांस सिखाने को कहती है और यहां से शुरू होती है दोनों की लव स्टोरी। फिर आता है एक ट्विस्ट। ट्रेलर देखने से ऐसा लग रहा है कि दोनों की शादी किसी और से होती है, जिसके बाद खेसारी के पिता का बेटे के लिए जो इमोशन दिखता है, वो आपको भावुक कर देने वाला है। आगे क्या होता है, इसके लिए फिल्म का इंतजार करना होगा। बता दें कि इस फिल्म के निर्माता रौशन सिंह, सह निर्माता शर्मीला आर सिंह और लेखक - निर्देशक रजनीश मिश्रा हैं, जिनका विजन फिल्म के ट्रेलर में देखने को मिल रहा है।

फिल्म 'डोली सजा के रखना' एक फैमिली ड्रामा फिल्म है, जो पिता-पुत्र के मार्मिक रिश्तों पर आधारित है। यह दर्शकों के हंसाने और रुलाने वाली है। ट्रेलर में खेसारी लाल यादव और आम्रपाली दुबे की जोड़ी शानदार लग रही है। इस फिल्म में दोनों को एक ऐसे कपल के रूप में दिखाया गया है, जो एक दूसरे से प्यार तो करते हैं, लेकिन शादी का मामला फंस जाता है। ट्रेलर में खेसारीलाल का एक्शन भी देखने को मिला है, जिसको डिजाईन दिलीप यादव ने किया है।

आपको बता दें कि एसआरके म्यूजिक फिल्म्स प्रस्तुत फिल्म 'डोली सजा के रखना' में खेसारीलाल यादव और आम्रपाली दुबे के साथ रक्षा  गुप्ता, विनोद मिश्रा, अनूप अरोड़ा, समर्थ चतुर्वेदी, फलक नाज़, बिना पांडेय और दिलकश मुख्य भूमिका में हैं। देव पांडेय का भी फिल्म में योगदान रहा है। फिल्म का खूबसूरत संगीत रजनीश मिश्रा, छोटे बाबा और आर्या शर्मा का है। लिरिक्स प्यारेलाल यादव, सुमित सिंह चंद्रवंशी, कृष्णा बेदर्दी, विजय चौहान, परफुल्ल तिवारी, छोटू और गोलू यादव का है। पी आर ओ रंजन सिन्हा है। कोरियोग्राफी कानू मुखर्जी और परसुन यादव ने की है।