निर्माण कार्यो को समय से पूर्ण कराये कार्यदायी संस्था: जिलाधिकारी

 युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

बहराइच : शासन के सर्वाेच्च प्राथमिकता वाले 37 सूत्रीय विकास कार्यक्रमों की मासिक समीक्षा हेतु वृहस्पतिवार को देरशाम कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी डॉ. दिनेश चन्द्र ने निर्देश दिया कि आनगोईंग प्रोजेक्ट्स को निर्धारित मानक व समयबद्धता के साथ पूर्ण करायें। डीएम डॉ. चन्द्र ने कार्यदायी संस्थाओं व प्रशासकीय विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिया कि नियमिति रूप से कार्यस्थल का निरीक्षण कर परियोजनाओं को पूर्ण कराये साथ ही यह भी सुनिश्चित करें कि जो प्रोजेक्ट पूर्ण हो गये हैं उन्हें उपयोग में लाया जाय। जिलाधिकारी ने जिला अर्थसंख्या अधिकारी को बैठक में अनुपस्थित एआर कोआपरेटिव का वेतन बाधित करने तथा स्पष्टीकरण प्राप्त करने का निर्देश दिया।

स्वास्थ्य योजनाओं एवं कार्यक्रमों की समीक्षा के दौरान आयुष्मान गोल्डेन कार्ड निर्गत करने की प्रगति संतोषजनक न पाये जाने पर कड़ी अप्रसन्ता व्यक्त करते हुए प्रगति में अपेक्षित सुधार लाये जाने के निर्देश दिये गये। साथ ही जिला पूर्ति अधिकारी को इस कार्य में सहयोग करने के भी निर्देश दिये गये। पशु टीकाकरण की समीक्षा के दौरान मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये गये कि शत प्रतिशत पशुओं का टीकाकरण कराया जाय। बहराइच नगर क्षेत्र में अमृत पेयजल योजना के तहत कराये जा रहे कार्यो से क्षतिग्रस्त सड़को की मरम्मत न कराये जाने की स्थिति पर कड़ा रोष व्यक्त करते हुए डीएसटीओ को निर्देश दिया कि कार्यदायी संस्था के विरुद्ध वस्तुस्थिति से शासन को अवगत कराया जाय।

ग्रामीण पेयजल समीक्षा के दौरान डीएसटीओ को निर्देश दिया कि इस सम्बन्ध में एक सप्ताह के अन्दर अलग से बैठक बुलाई जाय। बैठक में पेयजल परियोजनाओं से सम्बन्धित ग्राम पंचायतों के प्रधानों, सचिवों को भी आमंत्रित किया जाय। मुख्यमंत्री सामुहिक विवाह योजना की समीक्षा के दौरान पाया गया कि लक्ष्य पूरा हो जाने के बावजूद व्यय की प्रगति संतोषजनक न पाये जाने पर जिला समाज कल्याण अधिकारी से स्पष्टीकरण प्राप्त करने के निर्देश दिये। साथ ही जिला समाज कल्याण अधिकारी को वृद्धावस्था पेंशन की प्रगति से प्रतिदिन अवगत कराये जाने के निर्देश दिये गये। प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम व मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के प्रगति की समीक्षा में योजनाओं के ऋण आवेदन पत्रों की स्वीकृति के सापेक्ष ऋण वितरण की प्रगति संतोषजनक न पाये जाने पर जिलाधिकारी ने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिया कि सम्बन्धित बैकों से समन्वय कर स्वीकृति आवेदन पत्रों के सापेक्ष शत प्रतिशत वितरण सुनिश्चित कराये। इसके अलावा अन्य बिन्दुओं की समीक्षा करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये गये।

इस अवसर पर मुख्य राजस्व अधिकारी अवधेश कुमार मिश्र, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ एस.के. सिंह, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डा. एम.एम.एम. त्रिपाठी, पीडीडीआरडीए पी.एन. यादव, उप निदेशक कृषि टी.पी. शाही, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ. एन.के. सचान, जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ. चन्द्रपाल, जिला कृषि अधिकारी सतीश कुमार पाण्डेय,जिला गन्ना अधिकारी शैलेश कुमार मौर्य, जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी संजय मिश्रा, जिला प्रोबेशन अधिकारी विनय सिंह, जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी राजन कुमार, जिला सेवा योजन अधिकारी संजय कुमार जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी डॉ. अर्चना सिंह सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहे।