महमूदाबाद चीनीमील सबसे कम 22 लाख कुंतल गन्ना खरीदा था, फिर भी दि सहकारी चीनी मिल पर किसानों का 15 करोड़ बकाया

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क   

सीतापुर  : जनपद सीतापुर में महमूदाबाद के दि सहकारी चीनी मिल में गन्ना किसानों का 15 करोड़ रुपये बकाया है। और गन्ना किसान पैसे के लिए मिल के चक्कर काट रहे हैं। और वही चीनी मील के अधिकारियों का कहना है कि शासन से बजट आते ही किसानों के गन्ना का बकाया रुपये का भुगतान किया जाएगा। और किसानों का कहना है कि सीतापुर की अन्य गन्ना मीले तो सभी किसानों को पैसे दे दिए है । और वही जनपद सीतापुर में 5 गन्ना मील स्थित हैं। जिसमें महमूदाबाद, बिसवां, हरगांव व रामगढ़, जवाहरपुर में चीनी मिले है। और महमूदाबाद चीनी मील ने 22 लाख कुंतल, बिसवां चीनी मिल ने 114 लाख कुंतल, रामगढ़ चीनी मिल ने 103 लाख कुंतल, हरगांव चीनी मिल ने 176 लाख कुंतल व जवाहरपुर चीनी मिल ने 131 लाख कुंतल किसानों के गन्ना की खरीद की है। मिलों के पेराई सत्र के दौरान सभी 4 चीनी मिल ने गन्ना किसानों का पूरा भुगतान कर दिया है। मगर महमूदाबाद सहकारी चीनी मिल ने अभी किसानों को पैसे नहीं दिए है । और जनपद के सभी चीनी मिल से मिले आंकड़ों के मुताबिक, हरगांव चीनी मिल ने सबसे ज्यादा गन्ना खरीद की थी। सबसे कम महमूदाबाद सहकारी चीनी मिल ने गन्ना खरीद की थी। और वही उक्त मामले के सम्बन्ध जब महमूदाबाद सहकारी चीनी मिल के मुख्य गन्ना अधिकारी महेंद्र से बात की गई तो उनका कहना है कि अभी 15 करोड़ रुपये गन्ना किसानों का बकाया है। और जिसका प्रस्ताव भेज दिया गया है। तथा शासन से पैसा आते ही किसानों के खातों में ट्रांसफर कर दिया जाएगा।