सार्वजनिक शौचालय में तीन साल से लगा है ताला

 युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क   

करनैलगंज(गोंडा)। स्वच्छ भारत मिशन के तहत नगर पालिका द्वारा लाखों रुपये खर्च कर करनैलगंज-हुजूरपुर रोड पर सीएचसी के सामने बनाए गए सार्वजनिक शौचालय के तीन साल से ताले नहीं खोले गए हैं। ऐसे में स्थानीय लोगों सहित राहगीरों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। नगरवासियों की माने तो सामुदायिक शौचालय मात्र दिखावा बन कर रह गया है। स्थानीय लोगों को यह मालूम नही है कि शौचालय आखिर बंद क्यों है। स्वच्छता अभियान पर जोर देते हुए नगर को खुले में शौच मुक्त करने के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के सामने एक पुरुष एंव एक महिलाओं के लिए दो सार्वजनिक सामुदायिक शौचालयों का निर्माण कराया गया था। इसका उपयोग नहीं हो रहा है। जन सुविधा के लिए बना सामुदायिक शौचालय बंद रहता है। लगभग तीन वर्ष पूर्व बनाए गए शौचालय मुश्किल से आठ दस दिन के लिए खुला है। कभी किसी अधिकारी के आने पर शौचालय का ताला खोल दिया जाता है। साफ सफाई भी कर दी जाती है। बाद में फिर ताला बंद कर दिया जाता है। लोगों का कहना है कि सरकार द्वारा लाखों रुपये खर्च करने के बाद भी योजना के मकसद से गरीब वंचित हैं। अगर सामुदायिक शौचालय नियमित खुले तो लोग उसी में शौच के लिए जाएंगे। शौचालय के आसपास सफाई व्यवस्था भी बदहाल है। नमित सभासद मुकेश वैश्य ने नगर पालिका के अध्यक्ष व ईओ को पत्र देकर सामुदायिक शौचालय का ताला खुलवाने व नाले की तलहटी से सफाई कराने की मांग की है। इस बाबत जब अधिशासी अधिकारी  प्रियंका मिश्रा से सम्पर्क करने पर बताया गया कि शौचालय क्यों बंद है।