सरकार महंगाई पर अंकुश लगाने में विफल: राजेश गुलाटी

 युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क   

सहारनपुर। सामाजिक उद्योग व्यापार मण्डल,उ.प्र. की एक महत्वपूर्ण बैठक प्रदेश अध्यक्ष रामबाबू रस्तौगी के निर्देशानुसार व्यापार मण्डल के जिला मुख्यालय कार्यालय देहरादून रोड पर आयोजित की गयी। बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाध्यक्ष राजेश गुलाटी ने कहा कि केन्द्र व प्रदेश सरकार महंगाई पर अंकुश लगाने में नाकाम साबित हो रही है, सरकार सिर्फ टैक्स बढ़ोत्तरी कर सरकारी खजाने व स्वयं का हित साधने का काम कर रही है जनता की कोई परवाह नहीं कर रहा है। आज महंगाई का यह आलम है कि गरीब जनता को दो वक्त की रोटी का जुगाड़ करने के लिए लाले पड़े हुए हैं। हर जीत के दाम आसमान छू रहे हैं। इसके चलते हर वर्ग का आर्थिक बजट गड़बड़ा गया है। उन्होंने कहा कि सब्जी से लेकर आम जरूरत के सामान में महंगाई का पूरा तड़का लगा दिया गया है जिससे आम आदमी की पहुंच से रोटी दूर होती जा रही है। उन्होंने कहा कि रसोई व पेट्रोल गैस के दामों में बेहताशा वृद्धि ने आम आदमी की कमर तोड़ दी है। उन्होंने कहा कि गैर भाजपा सरकार में सिलेण्डर की कीमत 400 रूपये होती थी तो भाजपाई संसद का घेराव कर सड़कें जाम कर देते थे, लेकिन अपनी ही सरकार में उनको यह महंगाई नजर नहीं आती है, यह आश्चर्यजनक स्थिति है और देश के लिए दुर्भाग्यपूर्ण समय है। उन्होने कहा कि महंगाई की मार हर वर्ग पर पड़ रही है कोई भी वर्ग इससे अछूता नहीं रहा है। 

श्री गुलाटी ने कहा कि एक तो कोविड के कारण पहले ही व्यापारियों की कमर टूटी हुई है, रही सही कसर नगर निगम की कार्यशैली के कारण टूट रही है। व्यापारियों को मंदी की मार झेलना पड़ रहा है। जगह-जगह जाम के कारण व्यापारी का कारोबार प्रभावित हो रहा है। टूटी सड़के, जगह-जगह गडढे नगर निगम की कार्यशैली को उजागर कर रहा है। पूरे जिले में सड़कों का यही हाल है। सीवर व अन्य कार्यों के नाम पर खोदी गयी सड़कों को निगम द्वारा खुदवा तो दिया गया लेकिन काम को समयावधि में पूरा न करके साल-साल भर लगाया जाता है जिससे जनता बेहाल है। घंटाघर पर नगर निगम की कार्यशैली जीता जागता प्रमाण है।

उन्होंने चेताते हुए कहा कि यदि समय रहते समस्याओं का निराकरण न किया गया तो व्यापार मण्डल जिला मुख्यालय पर नारेबाजी कर प्रदर्शन करने से भी गुरेज नहीं करेगा।

बैठक में मुख्य रूप से जिलाध्यक्ष राजेश गुलाटी, विरेन्द्र कुमार, नवीन अग्रवाल, सतीश अनेजा, लखविन्द्र सिंह, गौरव गुम्बर, मन्नी सूरी, मोनू कुमार नोटियाल, सचिन तनेजा ,इन्द्र कपूर, अजीम अहमद आदि व्यापारी प्रतिनिधि मौजूद रहे।