पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री ने जिला अस्पताल व कोतवाली का किया निरीक्षण

-जानी व्यवस्थाएं, दिए निर्देश

बांदा। मंत्री पर्यटन एवं संस्कृति विभाग उत्तर प्रदेश सरकार जयवीर सिंह ने जिला अस्पताल एवं नगर कोतवाली का औचक निरीक्षण किया। सर्वप्रथम जिला अस्पताल में ऑक्सीजन प्लांट को देखा जो 500 लीटर प्रति मिनट की क्षमता से क्रियाशील पाया गया। ऑक्सीजन कंसंट्रेशन शत प्रतिशत पाया गया। इसके बाद ट्रामा सेंटर में महिला वार्ड का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान भर्ती मरीज जो छत से गिर जाने के कारण शरीर में विभिन्न जगहों पर परीक्षण के लिए एक्स-रे किए जाने हेतु मरीज अमृता निषाद बेटी रोशनी माननीय मंत्री जी को अवगत कराया कि एक्स-रे के नाम पर ड्यूटी में तैनात डॉक्टर शिशिर के द्वारा 800 रुपये ले लिया गया है।

 इस बात को लेकर मंत्री ने नाराजगी व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी अनुराग पटेल को जांच कराने के निर्देश दिए। साथ ही सख्त हिदायत देते हुए कहा कि माननीय मुख्यमंत्री का निर्देश है कि निश्शुल्क इलाज किया जाए।बाहर के लिए दवाइयां न लिखी जाए। कमीशन का खेल बंद किया जाए अन्यथा की स्थिति में बाहर का रास्ता देखना पड़ेगा, ट्रामा सेंटर का ए0सी0बंद पाया गया तो ठीक कराने के निर्देश एक्सीडेंट में घायल मरीज विनीता देवी 35 वर्षीय मंत्री ने हालचाल पूछा तो बताया कि मस्तिष्क का सिटी स्कैन एवं एक्सरे होना है।कहा कि पात्र व्यक्ति को ही शासन की योजनाओं का लाभ दिया जाए अपात्र को नहीं।

कोतवाली नगर के औचक निरीक्षण के दौरान मंत्री श्री सिंह ने सर्वप्रथम महिला हेल्प डेस्क को देखा। वहां तैनात महिला कॉन्स्टेबल से पूछताछ की एफ0आई0आर0 का औसत एवं निस्तारण तथा पिछले एक माह का डिटेल मांगा। कितने मुकदमा पंजीकृत एवं कितने का निस्तारण किया गया है। कितनी महिला कर्मचारी यहां तैनात हैं तो पुलिस अधीक्षक अभिनंदन सिंह के द्वारा अवगत कराया गया कि इस माह 06 मुकदमा पंजीकृत किए गए हैं। ज्यादातर आपसी सुलह समझौता से निस्तारण करा दिया जाता है।  महिला कर्मचारी 33 यहां पर तैनात हैं। मंत्री जी ने निर्देश दिए कि यह सुनिश्चित कर लिया जाए कि समस्त पुलिस क्षेत्राधिकारी सहित थानाध्यक्ष अपने-अपने तैनाती स्थल पर ही निवास करेंगे।विकासखंड बड़ोखरखुर्द के ग्राम पंचायत महोखर के पंचायत भवन में जन चौपाल के माध्यम से माननीय मंत्री जयवीर सिंह एवं मंत्री गिरीश चंद्र यादव ने जन समस्याओं को सुना और संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि एक सप्ताह के अंदर समस्याओं का निस्तारण करना सुनिश्चित करें। जो हैंडपंप रिबोर योग्य है उन्हें तत्काल ठीक कराएं। शासन की योजनाओं का लाभ पात्र व्यक्ति को ही दिया जाए और अपात्र व्यक्ति को बाहर किया जाए।

इस दौरान सांसद चित्रकूट बांदा आर0के0सिंह पटेल, विधायक सदर प्रकाश द्विवेदी,ब्लाक प्रमुख बड़ोखरखुर्द स्वर्ण सिंह सोनू सहित जनप्रतिनिधि गण, आयुक्त चित्रकूटधाम मंडल दिनेश कुमार सिंह, आई0जी0 चित्रकूट धाम परीक्षेत्र एस0के0भगत,जिलाधिकारी अनुराग पटेल,पुलिस अधीक्षक, अभिनंदन, मुख्य विकास अधिकारी वेद प्रकाश मौर्य, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, डॉ अनिल श्रीवास्तव उप जिलाधिकारी सदर/ज्वाइंट मजिस्ट्रेट सुधीर कुमार, नगर मजिस्ट्रेट केशवनाथ गुप्त, सीओ सदर, तहसीलदार पुष्पक चिकित्सा अधीक्षक, डा.एस0एन0 मिश्रा संबंधित अधिकारी एवं पुलिस क्षेत्राधिकारी एवं कोतवाल उपस्थित रहे।