आईजी ने एसपी ऑफिस और पुलिस लाइन का निरीक्षण कर, समीक्षा बैठक की

 युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

ब्यूरो , सीतापुर : जनपद सीतापुर में आईजी रेंज लखनऊ लक्ष्मी सिंह ने सीतापुर का दौरा किया ।और आईजी रेंज लखनऊ लक्ष्मी सिंह ने सबसे पहले पीडब्ल्यूडी गेस्ट हाउस पहुंचकर गॉर्ड ऑफ ऑनर लेने के बाद डीएम- एसपी और एडिशनल एसपी के साथ महत्वपूर्ण बिंदुओं पर बैठक की। इस बैठक के बाद आईजी पुलिस लाइन पहुंचकर वहां का निरीक्षण किया और दिशा निर्देश दिए। निरीक्षण के उपरांत आईजी रेंज लखनऊ ने सभी थानाध्यक्षों और क्षेत्राधिकारियों के साथ में अपराध समीक्षा बैठक की। इस दौरान आईजी ने थानावार अपराध के आंकड़ों को देखा और सम्बंधित थानाध्यक्ष से बातचीत कर गंभीर अपराधों में जल्द से जल्द आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही के लिए निर्देशित किया। और इस दौरान सभी थानावार क्षेत्रधिकारियों से संगीन अपराधों की रोजाना थानों से प्रगति रिपोर्ट लेने के निर्देश भी दिए है। और आईजी ने पुलिस लाइन का निरीक्षण करते हुए पुलिस लाइन सभागार में जनपद के समस्त थानाध्यक्षों और क्षेत्राधिकारियों के साथ अपराध समीक्षा बैठक में सभी को अपराध को कंट्रोल करने के टिप्स भी दिए । और साथ ही फरियादियों से अच्छा सलूक करने की हिदायत दी है। तथा आईजी ने कहा कि महिला सम्बंधी अपराधों में किसी भी प्रकार की आनाकानी नही होनी चाहिए । और समय रहते महिला संबंधी गंभीर अपराधों में जांच कर त्वरित कार्यवाही की जाये । तथा इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी । और उन्होंने यह भी कहा कि इलाके में अवैध शराब की बिक्री पर पूर्णतया प्रतिबंध लगाया जाए।  और संगीन अपराधों में लिप्त अपराधियों के  खिलाफ गैंगस्टर की कार्यवाही की जाए। और वही सभी थानाध्यक्षों को निर्देशित किया गया है कि 1090 और थानों पर बनी महिला हेल्प डेस्क पर आने वाली किसी भी शिकायत को नजरअंदाज न करते हुए शिकायत की  तह तक जांच करने के उपरान्त ही कार्यवाही करें । तथा थाने पर आने वाले  सभी फरियादियों से शालीनता से बातचीत कर उनकी समस्या का समाधान करने का प्रयास करें । क्योंकि एक छोटा सा विवाद आखिर में बड़े संघर्ष का रूप ले लेता है। इस लिए किसी भी शिकायतकर्ता के द्वारा की गई शिकायत की जांच पड़ताल कर त्वरित कार्यवाही करनी चाहिए । जिससे उस छोटे से विवाद को बड़ा रूप लेने से बचाया जा सकता है । और वही आईजी रेंज लखनऊ लक्ष्मी सिंह ने बताया कि इस समीक्षा बैठक में सभी पुलिसकर्मियों को हिदायत दी गई कि महिला संबंधी गंभीर अपराधों में जांच कर त्वरित कार्यवाही अमल में लाये । और इसमें किसी भी प्रकार की कोई लापरवाही बर्दाश्त नहीं होगी।