जाने लद्दाख से जुड़ी ये दिलचस्प बातें

 युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

पहाड़ी इलाकों का जिक्र करें तो लद्दाख भी उनमें से एक है। इसकी खूबसूरती देखकर आप आश्चर्य में पड़ जाएंगे। हिमालय के दक्षिणी भाग में बसा हुआ शहर लद्दाख पर्यटकों को बहुत ही पसंद आता है। खासकर गर्मी के इस मौसम में आप यहां पर घूमने का प्लान बना सकते हैं। तो चलिए आपको लद्दाख की ऐसी ही कुछ खास बातों के बारे में बताते हैं...

तापमान और मौसम 

लद्दाख का तापमान गर्मियों के दिनों में बहुत ही अच्छा होता है। जून की महीने में यहां का तापमान 20 से30 डिग्री में रहता है। मौसम भी बहुत सुहावना होता है। आप गर्मियों में इस लद्दाख घूमने का प्लान बना सकते हैं। 

गर्मियों के दिनों में होते हैं त्योहार 

यदि आप गर्मियों के दिनों में लद्दाख घूमने के लिए जाते हैं तो आप यहां के रंग-बिरंगे त्योहार का मजा भी ले सकते हैं। इन दिनों  यहां पर हेमिस फेस्टिवल, युरुकबग्यात और सकादावा जैसे मजेदार त्योहारों का आप लुत्फ उठा सकते हैं। 

घूमने के लिए जगहें 

लद्दाख में आप कई मठों की सैर कर सकते हैं। आप यहां पर अल्ची, हेमिस और स्पितुक मठ का भी लुत्फ ले सकते हैं। मैग्रेटिक हिल, शांति स्तूप, गुरुद्वारा पट्टा साहिब, लेह मार्केट और युद्ध संग्रहालय भी देख सकते हैं। यदि आप प्राचीन मठों की सैर करना चाहते हैं तो लद्दाख सबसे बेस्ट ऑप्शन होगा। 

खारदुंगला पास 

ये पास लद्दाख से 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। इस पास को विश्व के सबसे ऊंची गाड़ियों से गुजरने वाली सड़का का नाम भी दिया गया है। दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान इस सड़क से युद्ध का बहुत सा सामान चीन पहुंचाया गया था। इस सड़क पर अभी भी भारतीय सेना के वाहन जाते हुए दिखते हैं। एंडवेंचर के शोकिन लोगों के लिए भी ये जगह बहुत ही अच्छी है। 

शांति स्तूप 

ये लद्दाख से 5 किमी की दूरी पर स्थित है। इस स्तूप की समुद्र तल से ऊंचाई 11,840 फीट है। इसे विश्व का सबसे ऊंचा स्तूप माना जात है। इसका निर्माण बौद्ध धर्म के 2500 साल पूरे होने पर जापान और लद्दाख के बौद्ध भिक्षुओं ने मिलकर एकसाथ बनाया था।