अभूतपूर्व रूप से मनाया गया चेटीचंड महोत्सव

 युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

गोंडा । 2 वर्ष से करोना काल के कारण स्थगित किए गए सिंधियों के ईस्ट देव वरुण अवतार प्रभु झूलेलाल  जयंती (चेटीचंड) महोत्सव इस साल मौका मिलने पर सिंधी समाज ने पूरे जोर-शोर से मनाया।चेटीचंड महोत्सव में सबसे पहले पूज्य झूलेलाल धर्मशाला से शहर के मुख्य मार्गों पर होते हुए पूज्य झूलेलाल चौराहा तक एक भव्य बाइक रैली निकाली गई। रैली पर आगे आगे एक वाहन पर प्रभु झूलेलाल के भजन चल रहे थे। पीछे पीछे सिंधी समाज के लोग जगह-जगह पर रुक रुक कर नृत्य कर रहे थे। पूज्य झूलेलाल चौराहे पर वाहन रैली के पहुंचने के उपरांत विशाल लंगर वितरण का कार्यक्रम शुरु हो गया। जो देर शाम तक चलता रहा। शाम 6:00 बजे झूलेलाल मंदिर गुरुनानक मार्केट पर प्रभु झूलेलाल की आरती की गई। शाम 6:30 पर पूज्य झूलेलाल धर्मशाला स्थित झूलेलाल मंदिर पर आरती की गई। शाम 7:00 बजे से सखी बाबा आसुदाराम आश्रम में सिंधी समाज के बच्चों का सांस्कृतिक कार्यक्रम शुरू हो गया। सांस्कृतिक कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में अपर पुलिस अधीक्षक शिवराज सिंह ने सिकरत की। कार्यक्रम में सर्वप्रथम मुख्य अतिथि द्वारा दीप प्रज्ज्वलन करके कार्यक्रम की शुरुआत की गई। मुख्य अतिथि को सिंधी समाज के मुखिया जयरामदास लधवानी, मुखिया राजकुमार ठक्कुर, मेला कमेटी के उपाध्यक्ष मुकेश धनकानी, सिंधी समाज के मीडिया प्रभारी किशन राजपाल ने माल्यार्पण कर स्वागत किया। तत्पश्चात मेला कमेटी के अध्यक्ष कैलाश चंद्र लधवानी व पूज्य झूलेलाल धर्मार्थ समिति के पूर्व अध्यक्ष जगदीश रायतानी ने मुख्य अतिथि को मोमेंटो भेंट किया। मालवीय नगर के सभासद पवन श्रीवास्तव का रवि अम्लानी ने अंग वस्त्र पहनाकर स्वागत किया। अपर पुलिस अधीक्षक ने कार्यक्रम के दौरान सिंधी समाज के लोगों को साइबर क्राइम और सोशल मीडिया के दुष्परिणामों से बचने के तरीके बताए। कार्यक्रम में  बच्चों के नृत्य एवं भजनों में भक्तों का मन मोह लिया। श्रद्धालु भावविभोर होकर नृत्य करने लगे। कार्यक्रम का संचालन भारतीय सिंधु सभा के विभाग अध्यक्ष अनिल जिज्ञासु ने कुशलतापूर्वक किया। कार्यक्रम के अंत में सब ने एक साथ बैठकर प्रसाद स्वरूप लंगर का आनंद लिया।कार्यक्रम में मुख्य रूप से पूज्य झूलेलाल धर्मार्थ समिति के सचिव राजेश रायचंदानी, समाजवादी सिंधी सभा के जिला अध्यक्ष दिनेश ठक्कूर,विश्व हिंदू महासभा के प्रवक्ता केशव ठक्कुर,फत्ती चंद राजपाल,पिंटू वलेचा,नीरज मंजर, गोपी अम्लानी,अनिल ठक्कूर, अनिल कालानी,दीपक वरयानी, सतीश ठक्कुर, पूरन खत्री, शीतल दास लधानी,अनूप जसवानी, निखिल वाधवानी, प्रकाश आहूजा आदि मौजूद रहे।