दिल्ली सरकार के सैनिक स्कूल का नाम भगत सिंह के नाम पर होगा, छात्रों से नहीं लिया जायेगा कोई शुल्क: केजरीवाल

 युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

दिल्ली : मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को ऐलान किया कि छात्रों को सशस्त्र बलों के लिए तैयार करने के वास्ते दिल्ली सरकार के आगामी स्कूल का नाम स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह के नाम पर रखा जाएगा। यह स्कूल झाड़ौदा कलां में आधुनिक सुविधाओं के साथ 14 एकड़ भूभाग में बनाया जाएगा। भगत सिंह की पुण्यतिथि से एक दिन पहले मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘23 मार्च (1931) को ही शहीद-ए-आजम भगत सिंह, राजगुरु और सुखदेव को फांसी दी गयी थी। उन्होंने ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘20 दिसंबर 2021 को हमने घोषणा की थी कि दिल्ली में ऐसा स्कूल होगा जहां सशस्त्र सेनाओं के लिए छात्रों को तैयार किया जाएगा। 

स्कूल का नाम शहीद भगत सिंह आर्म्ड फोर्सेज प्रीपेरेटरी स्कूल रखा जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह एक आवासीय स्कूल होगा और छात्रों से कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। उन्होंने कहा, ‘स्कूल में नौंवी और 11वीं कक्षाओं में छात्रों के दाखिले होंगे। प्रत्येक कक्षा के लिए 100 सीटें होंगी। हमें 200 सीटों के लिए 18,000 आवेदन मिल चुके हैं। केजरीवाल ने बताया कि नौवीं कक्षा में दाखिले के लिए 27 मार्च को योग्यता परीक्षा होगी। अगले दिन 11वीं कक्षा के लिए परीक्षा होगी। दूसरे चरण में साक्षात्कार होंगे। उन्होंने कहा कि सेना के सेवानिवृत्त अधिकारी, नौसेना और वायु सेना के अधिकारी छात्रों को पढ़ाएंगे।