जिलाधिकारी ने समस्त जनपद के क्षेत्रों में पाइपलाइन से पेयजल पहुंचाने हेतु समस्त निर्माणाधीन परियोजनाओं की भौतिक समीक्षा

 युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क  

चित्रकूट। जिलाधिकारी शुभ्रान्त कुमार शुक्ल की अध्यक्षता में जनपद में तीन इंन्टकवेल बनने, सिलौटा जल जीवन मिशन के अंतर्गत समस्त ग्रामीण क्षेत्रों में पाइप पेयजल पहुंचाये जाने हेतु निर्माणाधीन परियोजनाओं की भौतिक समीक्षा कलेक्ट्रेट सभागार में हुई।

कार्यदाई संस्था सी0एन0टी0 इंन्टकवेल पाइप लाइन एवं ओवरहेड टैंक की स्थिति संतोषजनक नहीं पाई गई। वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का कार्य संतोषजनक पाया गया है जिसकी भौतिक प्रगति 45 प्रतिशत रही। इसके अतिरिक्त द्वितीय कार्यदाई संस्था जी0वी0पी0आर0 ट्रिट प्लान्ट, इंन्टकवेल तथा वाटर ट्रीटमेंट प्लांट की भौतिक प्रगति 60 प्रतिशत पाई गई जो संतोषजनक थे। 

इसके अतिरिक्त पाइपलाइन और ओवर हेड टैंक की प्रगति खराब पाई गई जिसमें कार्यदाई संस्थाओं के द्वारा जल जीवन मिशन के महत्वपूर्ण योजना के लापरवाही के कारण फटकार लगाई गई। उन्होंने बताया कि अब तक 893 किलोमीटर पाइप लाइन बीछाई जा चुकी है। जिलाधिकारी ने कहा कि आप लोग मैन पावर बढा करके जल्द से जल्द कार्य कराएं।

 उन्होंने यह भी कहा कि वन विभाग के अधिकारियों से साथ बैठक कर पाइप लाइन में आने वाली असुविधा  का निराकरण किया जाए। समीक्षा बैठक में अपर जिलाधिकारी नमामि गंगे श्री सुनंदु सुधाकरण, एल एन टी, जीवीपीआर के प्रोजेक्ट मैनेजर, मेटल विभाग, जल एवं विद्युतयांत्रिक सहायक अभियंता प्रोजेक्ट मैनेजर, तीन निरीक्षण एजेन्सी के अधिकारी आदि मौजूद रहे।