IND v SA: कोहली की नजर एक और जीत पर, जोहानिसबर्ग में सीरीज को जीतने के इरादे से उतरेगी टीम इंडिया

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

भारतीय टीम 2022 की शुरुआत दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट से करेगी। तीन जनवरी से जोहानिसबर्ग में टीम इंडिया सीरीज को जीतने के इरादे से उतरेगी। विराट कोहली की कप्तानी में अगर भारतीय टीम दूसरा टेस्ट मैच जीत लेती है तो दक्षिण अफ्रीका में उसकी पहली सीरीज जीत होगी। संयोग से जिस मैदान पर यह मैच खेला जाएगा वह टीम इंडिया का अजेय किला रहा है।

जोहानिसबर्ग में भारतीय टीम अब तक एक भी टेस्ट मैच नहीं हारी है। वह पहली बार यहां 26 से 30 नवंबर तक 1992 में टेस्ट मैच खेली थी। वह मुकाबला ड्रॉ रहा था। इसके बाद 16 से 20 जनवरी तक 1997 में खेला गया मैच भी ड्रॉ रहा था। टीम इंडिया को इस मैदान पर पहली जीत 2006 में मिली थी। 15 से 18 दिसंबर तक हुए उस मैच को भारतीय टीम 123 रन से जीतने में कामयाब हुई थी। वह दक्षिण अफ्रीका में किसी भी मैदान पर पहली टेस्ट जीत थी।

भारतीय टीम पिछली बार जोहानिसबर्ग में 2018 में खेली थी। 24 से 27 जनवरी तक चले उस मुकाबले को विराट कोहली की टीम ने 63 रन से अपने नाम किया था। कोहली दक्षिण अफ्रीका में दो टेस्ट मैच जीतने वाले पहले कप्तान बन चुके हैं। अब उनकी नजर तीसरी जीत पर होगी। अगर भारतीय टीम यहां मैच जीत लेती है तो इतिहास रच देगी।

कोहली की नजर निजी उपलब्धि पर भी होगी। अगर वो जोहानिसबर्ग टेस्ट को जीत लेते हैं तो संयुक्त रूप से दुनिया के तीसरे सफलतम टेस्ट कप्तान बन जाएंगे। विराट ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज कप्तान रहे स्टीव वॉ की बराबरी कर लेंगे। कोहली ने 67 मैचों में कप्तानी की है और 40 में जीते हैं। स्टीव वॉ को 57 मैचों में से 41 में जीत मिली थी। कोहली दूसरा टेस्ट जीतकर वॉ की बराबरी कर लेंगे। जोहानिसबर्ग में सफलता के बाद उनसे आगे सिर्फ रिकी पोंटिंग (48 जीत) और दक्षिण अफ्रीका के ग्रीम स्मिथ (53 जीत) रह जाएंगे। 

कोहली के लिए 2021 का साल टेस्ट में कप्तान के तौर पर शानदार रहा है। उनके नेतृत्व में भारतीय टीम ने इंग्लैंड के अपने घरेलू मैदान टेस्ट सीरीज में हराया। उसके बाद इंग्लैंड में जाकर सीरीज में 2-1 की बढ़त बनाई। फिर न्यूजीलैंड के खिलाफ अपने घर में सीरीज जीतने में सफलता हासिल की। साल का अंत सेंचुरियन टेस्ट जीतकर किया।