विवादित बयान में जितेन्द्र त्यागी उर्फ रिजवी की गिरफ्तारी -न्यायपालिका का सही निर्णय

 युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

सहारनपुर। आल इंडिया शिया यूथ ब्रिगेड के प्रवक्ता तालिब ज़ैदी ने कहा कि जितेन्द्र नारायण उर्फ वसीम रिजवी की गिरफ्तारी से यह विश्वास हो गया है कि देश मंे न्याय अभी बाक़ी है। आपको बतादे कि खड़खड़ी स्थित वेद निकेतन मे 17 से 19 दिसम्बर तक चले 3 दिवसीय धर्म संसद का आयोजन हुआ था जिसमें भड़काऊ भाषण देने वालों का वीडियो वायरल होने के बाद हरिद्वार कि नगर कोतवाली मेें शिया वक्फ बोर्ड, यूपी के पूर्व चेयरमैन जितेंद्र नारायण त्यागी उर्फ वसीम रिजवी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था । बाद में मुकदमे में चार संतों के नाम भी जोड़े गए। साथ ही एक और मुकदमा दर्ज किया गया। इसके बाद एसआईटी का गठन किया गया। एसआईटी टीम का नेतृत्व कर रहीं एसपी देहात देहरादून कमलेश उपाध्याय मंगलवार को हरिद्वार पहुंचीं और सदस्यों के साथ बैठक कर रणनीती बनाई थी। वहीं, बुधवार को एसआईटी की टीम एक्शन मोड में दिखी। विवेचक मनीष उपाध्याय ने कई गवाहों के बयान दर्ज किए। साथ ही धर्म संसद की वायरल वीडियो क्लिप भी एकत्र की गई। माना जा रहा है कि आरोपियों के खिलाफ एसआईटी कोर्ट में जल्द ही आरोप पत्र दाखिल करेगी। साथ ही चार्जशीट की तैयारी भी शुरू कर दी है । तालिब ज़ैदी का कहना है कि जीतेन्द्र के जैल जाने से देश कि शांति व्यवस्था को बहुत फायदा होगा ।