योगी ने आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को सम्मेलन में दी सौगातें

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

लखनऊ। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को आंगनबाड़ी कार्यकत्री व सहायिका सम्मेलन तथा 754 आंगनबाड़ी केंद्रों का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया. इस दौरान सीएम मानदेय बढ़ाने के साथ ही चुनावी माहौल में नया रंग जमाते हुए मानदेय में बढ़ोत्तरी की सौगात देने जा रहे हैं। इस अवसर पर 169 आंगनबाड़ी केंद्रों का लोकार्पण किया गया। वहीं, सीएम योगी ने कहा कि 2017 के पहले यह कहा जाता था कि आंगनबाड़ी कार्यकत्रियां कुछ नहीं करती हैं. पिछली सरकारों ने अपनी नाकामी का ठीकरा आप सब पर फोड़ा था. मगर आज कोरोना काल में आप सबने अपनी क्षमता का परिचय दिया है. उन्होंने कहा कि कोरोना काल में संक्रमण को रोकने में आप सबने बेहतरीन भूमिका निभाई. 40 लाख प्रवासियों की जांच आदि के कार्य में आप सबने अहम भूमिका अदा की थी। इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री स्वाती सिंह ने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों ने कोविड काल में अपनी जान को जोखिम में डालते हुए कोरोना मरीजों की सेवा की। उन्होंने दावा कि आंगनबाड़ी के सशक्त होने से गांव की महिला और बच्चों को सशक्त करने में मदद मिलेगी. उन्होंने कहा,‘आज जिस तरह आंगनबाड़ी केंद्रों को सशक्त किया जा रहा है। उसी तरह वे भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी सशक्त बनाएं। सीएम योगी ने बताया कि बच्चों की प्राथमिक शिक्षा को बढ़ावा देने के अब उन्हें सबसे पहले आंगनबाड़ी केंद्रों में रजिस्ट्रेशन कराया जाएगा. उन्होंने बताया कि पुष्टाहार को और सुलभ बनाकर, उसकी गुणवत्ता को बढ़ाकर मातृ एवं शिशु मृत्युदर को कमजोर यानी कम करने की पूरी कोशिश की जा रही है. उन्होंने कहा कि इसके लिए आप सब बधाई के पात्र हैं. प्रदेश में स्वास्थ्य आंकड़ों में सुधार लाने में भी आप सबका योगदान है। सीएम ने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकत्री और सहायिका को स्मार्टफोन व तकनीक से जोड़ने की तैयारी की जा रही है. 1 अप्रैल 2020 से लेकर 31 मार्च 2022 तक प्रतिमाह आंगनबाड़ी कार्यकत्री, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकत्री 500 रुपए अतिरिक्त प्रोत्साहन राशि उपलब्ध करा रहे हैं. वहीं, सहायिकाओं को 250 रुपए प्रतिमाह की प्रोत्साहन राशि बढ़ाई जा रही है। वहीं, मानदेय बढ़ाने का फैसला करते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आंगनबाड़ी कार्यकत्री 8000, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकत्री 6500 और सहायिकाओं को 4500 रुपए का मानदेय बढ़ाकर दिया जाएगा. वहीं, इस अवसर पर कोरोना काल में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए कई आंगनबाड़ी कार्यकत्रियों को भी सम्मानित किया गया।