कोविड-19 के सुरक्षात्मक प्रोटोकाल के पालन के सम्बन्ध में आयोजित हुई जिला शान्ति समिति की बैठक

 युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

बहराइच। कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के लिए शासन द्वारा जारी किये गये दिशा निर्देश की जानकारी प्रदान किये जाने के उद्देश्य से कलेक्ट्रेट सभागार में जिला मजिस्ट्रेट डॉ. दिनेश चन्द्र की अध्यक्षता में आयोजित जिला शान्ति समिति की बैठक में कोरोना संक्रमण की रोक थाम के लिए शासन द्वारा जारी ग्रेडेड रिस्पान्स के सम्बन्ध में जारी दिशा निर्देशों की जानकारी प्रदान की गयी।

बैठक को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी डॉ. दिनेश चन्द्र व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक केशव कुमार चौधरी ने बताया कि शासन के नवीन दिशा निर्देशों के अनुसार रात्रि कालीन कर्फ्यू रात्रि 10ः00 बजे से प्रातः 6ः00 बजे तक लागू रहेगा। दुकानों, रेस्टोरेन्ट, होटल के रेस्टोरेन्ट एवं ईटिंग जाईन्ट के द्वार पर पल्स आक्सीमीटर, इन्फ्रारेड थर्मामीटर तथा सेनेटाइजर के साथ कोविड हेल्प डेस्क भी स्थापित किया जाय। व्यापार मण्डल के पदाधिकारियों से मास्क नही तो सामान नहीं का अनुपालन कराये जाने के भी निर्देश दिये गये। सोशल डिस्टेन्सिंग का प्रभावी पालन कराने हेतु राशन की दुकान व अन्य दुकानों पर दो गज की दूरी रखते हुए गोले बनाकर चिन्हांकन किया जाय ताकि दुकान पर उपस्थित व्यक्तियों में उचित दूरी बनी रहे।

ग्रेडेड रिस्पान्स के सम्बन्ध में शासन द्वारा जारी दिशा निर्देशों की जानकारी देते हुए बताया गया कि धार्मिक संस्थाओं एवं धार्मिक स्थानों पर कोविड हेल्प डेस्क स्थापित कर मास्क का प्रयोग सुनिश्चित करना होगा। पुरातत्व विभाग के स्मारक, वन्य प्राणि उद्यान (चिड़ियाघर) एवं क्लब में कोविड हेल्प डेस्क स्थापित कर स्क्रीनिंग की व्यवस्था एवं मास्क का प्रयोग सुनिश्चित किया जाय। स्वीमिंग पूल/वाटर पार्क एवं जिम बन्द रहेंगे। रेस्टोरेंट/होटल के रेस्टोरेन्ट/फूड ज्वाइट्स एवं सिनेमा हाल 50 प्रतिशत की क्षमता के साथ संचालित होंगे। इनमें भी कोविड हेल्प डेस्क स्थापित कर स्कीनिंग की व्यवस्था एवं मास्क का प्रयोग सुनिश्चित किया जायेगा।

आईटी एवं आईटीज़ से सम्बन्धित निजी कम्पनियाँ वर्क फ्राम होम की व्यवस्था को लागू करेंगी। शादी समारोह व अन्य आयोजनों में बन्द स्थानों में एक समय में अधिकतम 100 से अनधिक आमंत्रित अतिथियों को मास्क की अनिवार्यता, दो गज की दूरी, सेनेटाइजर का उपयोग एवं कोविड-19 प्रोटोकाल के अनुसार अन्य सावधानियों के साथ अनुमति होगी। कोविड हेल्पडेस्क की स्थापना प्रवेश द्वार पर की जायेगी। जबकि खुले स्थानों पर एक समय में ग्राउण्ड की क्षमता के 50 प्रतिशत तक आमंत्रित अतिथियों को मास्क की अनिवार्यता, दो गज की दूरी सेनेटाइजर का उपयोग एव कोविड-19 प्रोटोकाल के अनुसार अन्य सावधानियों के साथ अनुमति होगी। कोविड हेल्पडेस्क की स्थापना प्रवेश द्वारा पर की जायेगी। स्थानीय मण्डियों/साप्ताहिक मार्केट को इस प्रकार संचालित किया जाय, जिससे यहाँ फुटकर बिक्री आदि के कारण भीड़-भाड़ न हो सके एवं नियंत्रित तरीके से कार्य हो सके।

डीएम व एस.एस.पी. ने कहा कि सभी लोग कोविड-19 के सुरक्षात्मक प्रोटोकाल का पालन करें और दूसरे लोगों को भी पालन करने के लिए प्रेरित करें। बैठक में मौजूद लोगों से अपील की गयी कि सभी लोग स्वयं के साथ-साथ टीकाकरण से वंचित लोगों को प्रेरित कर वैक्सीनेशन कराने में सहयोग प्रदान करें। डीएम व एसएसपी ने कहा कि जिला प्रशासन को आशा ही नहीं बल्कि पूर्ण विश्वास है कि जनपदवासी पूर्व की भांति कोविड-19 के सुरक्षात्मक प्रोटोकाल तथा शासन द्वारा जारी दिशा निर्देशों का स्वःप्रेरणा से पालन सुनिश्चित करेंगे।

बैठक के दौरान डॉ. मोहम्मद आलम सरहदी, अशोक मातनहेलिया, कल्बे अब्बास, बृजमोहन मातनहेलिया, पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष तेजे खॉ, सरदार परमिन्दर सिंह शम्मी, परशुराम कुशवाहा, विजय केडिया, श्रीमती निशॉ शर्मा, कुलभूषण अरोड़ा, रूमी मियॉ, दीपक सोनी दाऊजी सहित अन्य वक्ताओं द्वारा आश्वस्त किया गया कि कोविड-19 से बचाव तथा सुरक्षा हेतु शासन व प्रशासन द्वारा जारी दिशा निर्देशों का पालन किया जायेगा। कोविड-19 संक्रमण के रोकथाम एवं बचाव में जिला प्रशासन को हर संभव सहयोग प्रदान किया जायेगा। बैठक में अन्त में नवागंतुक एस.एस.पी. ने गर्मजोशी के साथ स्वागत करने पर सभी को धन्यवाद ज्ञापित किया।

बैठक का संचालन अपर जिलाधिकारी मनोज व कलेक्ट्रेट कर्मी गुलाम अली शाह द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। इस अवसर पर मुख्य राजस्व अधिकारी अवधेश कुमार मिश्र, अपर पुलिस अधीक्षक नगर कुॅवर ज्ञानंजय सिंह, नगर मजिस्ट्रेट ज्योति राय, उप जिलाधिकारी सदर सौरभ गंगवार आईएएस व न्यायिक सुभाष सिंह धामी, पुलिस क्षेत्राधिकारी नगर विनय कुमार द्विवेदी, डिप्टी कलेक्टर प्रशिक्षु पीसीएस अमन देओल, अधि.अधि. न.पा.परि. बहराइच दुर्गेश्वर त्रिपाठी व अन्य सम्बन्धित अधिकारी तथा शमशाद अहमद एडवोकेट, अमित मित्तल, गौरी शंकर भानीरामका, अब्दुल सईद, मौलाना इनायतुल्ला कासमी सहित अन्य संभ्रान्तजन व गणमान्यजन मौजूद रहे।