जसपुरा में भी कर्मचारियों ने दिया धरना

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

 जसपुरा/बांदा। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संविदा कर्मचारी संघ के सभी सामु० स्वास्थ्य केंद्र जसपुरा में 7 सूत्री मांगों को लेकर अनिश्चितकालीन धरने में बैठे रहे जिसमें स्वास्थ्य सेवाय ठप्प रही अस्पताल में इमरजेंसी सेवा जारी रहे ।मरीजों को इलाज के लिए भटकना पड़ा।सामु० स्वा० केन्द्र जसपुरा मे राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संविदा कर्मचारी संघ के बैनर तले संविदा पर कार्यरत डाक्टर, फार्मासिस्ट  आशा बहू ,आशा संगिनी अपनी सात सूत्री मांगों को लेकर जसपुरा सामु०स्वास्थ्य केन्द्र मे अनिश्चितकालीन धरने में बैठकर नारेबाजी करते रहे संविदा कर्मचारियों ने बताया कि स्वास्थ्य संविदा कर्मचारियों हेतु कोई वेतन पॉलिसी न होने के कारण पिछले 16 वर्षों से अनवरत कार्य करते हुए तथा समान्य पद और समान्य योग्यता होते हुए भी हम संविदा कर्मचारियों को एक समान मानदेय नहीं मिल पा रहा है जिससे हम सभी को वेतन विसंगति का सामना करना पड़ रहा है और हरियाणा राज्य की भांति उत्तर प्रदेश के भी समस्त एनएचएम संविदा कर्मचारियों को सातवां वेतन आयोग के अंतर्गत महंगाई भत्ता व अन्य लाभ व बिहार सरकार की तरह एनएचएम कर्मचारियों को जाब सिक्योरिटी प्रदान की जाए। सहित अन्य मांगों को लेकर धरने में  बैठकर नारेबाजी करते रहे हैं। 7 सूतीय मांगों का ज्ञापन जसपुरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ सन्दीप पटेल के माध्यम से मुख्यमंत्री को प्रेषित ज्ञापन भेजा और सभी संविदास्वास्थ्य कर्मचारियों के हड़ताल स स्वास्थ्य सेवाएं ठप्प हो गई मरीजों को प्राइवेट अस्पतालो पर इलाज करना पड़ा वही इमरजेसी सेवाय चालू रहेंगी।इस दौरान डॉ राजाभैया डॉ कादरी डॉ रिजवी डॉ अंकुर अनिल अजीत लोकेन्द्र सहित तमाम कर्मचारी मौजूद रहे।