24 घंटे में आसमान में दिखाई देंगे दो अद्भुत नजारे सुपर न्यू मून और सूर्य ग्रहण

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

तीन दिसंबर और चार दिसंबर की दरमियानी रात और चार दिसंबर के दिन दो दिलचस्प खगोलीय घटनाओं पर दुनिया की नजर रहेगी। चार दिसंबर के दिन पूर्ण सूर्य ग्रहण पड़ने वाला है और यह साल का आखिरी सूर्य ग्रहण होगा। इसके अलावा सुपर न्यू मून का नजारा भी आसमान में दिखाई देगा। पूर्ण सूर्य ग्रहण 4 दिसंबर को होगा, लेकिन लोग सुपर न्यू मून को लोग तीन दिसंबर यानी आज से ही आसमान में देख सकेंगे।

सुपरमून क्या है?

सुपरमून एक खगोलीय घटना है, जिसमें चांद, पृथ्वी के सबसे नजदीक स्थिति में आ जाता है, जिसके बाद पृथ्वी से चांद सामान्य दिखने वाले आकार से अधिक बड़ा दिखाई देता है। सूर्य ग्रहण में चंद्रमा, पृथ्वी और सूर्य के बीच घूमने लगता है। इससे पृथ्वी पर छाया पड़ने लगती है।

कितने बजे होगा सूर्य ग्रहण?

भारत में सूर्य ग्रहण नहीं दिखेगा। अंटार्कटिका एकमात्र ऐसा स्थान होगा, जहां पूर्ण सूर्य ग्रहण दिखाई देगा। आंशिक ग्रहण दक्षिण ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण अमेरिका, प्रशांत, अटलांटिक, हिंद महासागर और अंटार्कटिका के कुछ हिस्सों में दिखाई देगा। सूर्य ग्रहण सुबह 10:59 बजे शुरू होगा और पूर्ण सूर्य ग्रहण 12:30 बजे होगा।