जिला उपाध्यक्ष के मृतक बेटे का मोबाइल मिला

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

हमीरपुर। पोस्टमार्टम हाउस के स्वीपर के पास से 21 अक्टूबर को सड़क हादसे में जान गंवाने वाले भाजपा की जिला उपाध्यक्ष के मृतक बेटे का मोबाइल 21 दिन बाद मोबाइल बरामद हुआ! जिसकी सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस स्वीपर  समेत उसके एक साथी को गिरफ्तार कर कोतवाली लाई है। जिससे पूछताछ की जा रही है।भाजपा की जिला उपाध्यक्ष राधा चौरसिया के बड़े पुत्र जितेंद्र चौरसिया की सुमेरपुर स्थित नेहा नर्सिंग होम के सामने सड़क हादसे में मौत हो गई थी! वही उनका छोटा बेटा आनंद चौरसिया घायल हो गया था।जितेंद्र चौरसिया के पास 1लाख 10 हजार रूपये की कीमत का महंगा  मोबाइल था। लेकिन उसका मोबाइल ना तो स्वजन को मिला और ना ही पुलिस को! घरवालों को पोस्टमार्टम के दौरान स्वीपर द्वारा मोबाइल निकालने का शक हुआ। पोस्टमार्टम के बाद उनके  छोटे भाई आनंद चौरसिया को इसकी लोकेशन पोस्टमार्टम हाउस के पास पता चली।जिसके बाद स्वीपर के पास मोबाइल होने का शक और बढ़ गया। 

और घर के लोग मोबाइल की तलाश में जुट गए।21 दिन बाद गुरुवार दोपहर मृतक की मां सीधे स्वीपर हरिश्चंद्र ऊर्फ हरिया के घर जा पहुंची और मोबाइल की मांग करने लगी।जिस पर हरिश्चंद्र ऊर्फ हरिया ने मोबाइल ना देने की बात कही!जिसकी सूचना कोतवाल भरत कुमार को मृतक जितेंद्र चौरसिया की मां ने दी। जिस पर मौके पर पहुंचे एसआई गौरव चौबे हरिश्चंद्र उर्फ हरिया उसके एक साथी अरेंद्र को पकड़कर कोतवाली ले आयें।मृतक की मां का कहना है कि अभी ब्लूटूथ व 20000 हजार रूपये नहीं मिले हैं।अपने मृतक पुत्र का मोबाइल पाकर भाजपा की जिला उपाध्यक्ष राधा चौरसिया को बेटे की मौत का गम फिर से ताजा हो गया और वह मोबाइल को सीने से लगाकर बिलखने लगी।