आखिरकर पुलिस गिरफ्त में आ ही गया सफेदपोश धारियों का गुर्गा

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क  

कई थानों की पुलिस को सक्रियता से थी गुरमेल सिंह की तलाश

सहारनपुर। बाहुबली खद्दरधारी नेताओं के संरक्षण में अवैध खनन का कार्य करने वाला गुर्गा गुरमेल सिंह आज आखिरकार पुलिस के हत्थे चढ़ ही गया। ज्ञातव्य हो कि पिछले लम्बे समय से उक्त गुर्गा पुलिस को चकमा देकर फरार चल रहा था जबकि इसके दो साथी पुलिस के हत्थे पहले ही चढ़ चुके थे। लिखापढी में थाने के सामने से गिरफ्तार दिखाया है। जबकि सूत्रों से ज्ञात हुआ है कि गुरमेल सिंह शामली भागने की फिराक में था और पकड़ा गया। 

सूत्रों के अनुसार आज थाना रामपुर मनिहारान व बिहारीगढ़ से अवैध खनन सहित कई मामलोें में वांछित गुरमेल सिंह पुत्र नामालूम निवासी जहानपुर थाना व कस्बा बिहारीगढ़ जनपद सहारनपुर पुलिस की सक्रियता के कारण धर दबोचा गया। जानकारी के अनुसार उक्त गुरमेल सिंह अपने सफेदपोश आकाओं के कारण अवैध खनन में खुलकर बैटिंग करता था और आज तक कई थानों में मुकदमे दर्ज होने के बावजूद भी पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ रहा था लेकिन पुलिस उक्त आरोपी की गिरफ्तारी के लिए प्रयासरत थी। 

मिली जानकारी के अनुसार थाना रामपुर मनिहारान में उक्त गुरमेल सिंह सहित प्रदीप पुत्र हुकुम ंिसह निवासी तोता टाण्डा, बिहारीगढ़,सहारनपुर व राशिद पुत्र अख्तर निवासी छितांवाला पटियाला पंजाब के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करायी गयी थी जिसमें प्रदीप व राशिद को थाना रामपुर की पुलिस ने जाल बिछाकर अवैध खनन के वाहन सहित धर दबोचा था लेकिन गुरमेल सिंह पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया था। तभी से पुलिस इसकी गिरफ्तारी के लिए सक्रिय थी। जब थाना रामपुर की पुलिस ने गिरफ्तार अभियुक्तों से कड़ाई से पूछताछ की तो पता चला कि ये सभी गुर्गे श्री गणपति स्टोन क्रेशन जहानपुर सतपुरा तहसील बेहट जिला सहारनपुर से सम्बन्ध रखते हैं। यह भी बताया कि श्री गणपति स्टोन क्रेशर के मालिक गुरमेल सिंह द्वारा ही उनके वाहनों में ओवर लोडिंग कराकर अवैध कमाई करायी जाती है, अधिक वजन भरकर राज्य सरकार के टैक्स की चोरी करना गुरमेल सिंह का मुख्य कार्य है और गुरमेल सिंह गैंग बनाकर उक्त कार्य को अंजाम देता है। इस गैंग में 10 से 15 लोग शामिल हैं, जो कि अवैध खनन का कारोबार कराते हैं। पुलिस ने इन तीनों पर सरकारी सम्पत्ति को नुकसान पहुंचाने का अभियोग भी पंजीकृत किया है। 

इसके अलावा गत 15 अक्टूबर 2020 को भी गुरमेल सिंह के खिलाफ थाना बिहारीगढ़ में गणपति स्टोन क्रेशर के नाम से मुकदमा दर्ज कराया गया था लेकिन उसमें भी गुरमेल सिंह पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया। गुरमेल सिंह एक शातिर किस्म का व्यक्ति हैं, इसको सफेदपोश नेताओं का संरक्षण प्राप्त है, इसलिए यह बेरोजगार युवाओं को अपने जाल में फंसा लेता है और उनको प्रलोभन देकर उनसे अवैध खनन के कार्य करवाता है। 

ज्ञातव्य हो कि गत 16 मई को थाना सरसावा क्षेत्र में पोकलेन मशीन द्वारा रेत निकालने का कार्य कराया जा रहा था जिसमें एक नेपाली युवक की मशीन के धंसने के कारण मौत हो गयी थी। उसके परिवार को भी उक्त गुरमेल सिंह द्वारा आश्वासन दिया गया था कि वह मुआवजा दे देगा लेकिन आज तक इसके द्वारा मृतक व्यक्ति के परिवार की कोई मदद नहीं की गयी।