अयोध्‍या से लेकर चित्रकूट तक की सैर कराएगी रामायण ट्रेन

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

भगवान श्री राम के जीवन से जुड़े सभी महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों की सैर की इच्छा रखने वालों के लिए इंडियन रेलवे कैटरिंग ऐंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन (आईआरसीटीसी) एक खास तोहफा लेकर आई है। आईआरसीटीसी ने दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से स्पेशल डीलक्स ट्रेन रवाना कर दी है, जो भगवान श्रीराम से जुड़ी तमाम जगहें घुमाएगी।

आईआरसीटीसी ने धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने और कोरोना के चलते खराब हुए हालातों को सुधारने के मद्देनजर स्पेशल डीलक्स ट्रेन चलाई है। इसके साथ ही यह  ट्रेनघरेलू पर्यटन को फिर से शुरू करने की दिशा में भी मददगार होगी। पहली रामायण सर्किट ट्रेन सात नवंबर को से रवाना हुई और उसके बाद चार अन्य रेलगाड़ियां भी रवाना होंगी। 

ये है ट्रेन का रूट

-पहला पड़ाव प्रभु श्री राम का जन्म स्थान अयोध्या होगा।

-यहां श्री राम जन्मभूमि मंदिर, श्री हनुमान मंदिर और नंदीग्राम में भरत मंदिर का दर्शन कराया जाएगा।

-अयोध्या से रवाना होकर यह ट्रेन सीतामढ़ी जाएगी।

-यहां जानकी जन्म स्थान और नेपाल के जनकपुर स्थित राम जानकी मंदिर का दर्शन कराया जाएगा।

-ट्रेन का अगला पड़ाव भगवान शिव की नगरी काशी होगा

-यहां से पर्यटक बसों के जरिए  सीता समाहित स्थल, प्रयाग, श्रृंगवेरपुर और चित्रकूट की यात्रा करेंगे। 

-चित्रकूट से चलकर यह ट्रेन नासिक पहुंचेगी।

-यहां पंचवटी और त्रयंबकेश्वर मंदिर का भ्रमण किया जा सकेगा।

 -नासिक के बाद प्राचीन किष्किंधा नगरी हंपी इस ट्रेन का अगला पड़ाव होगा।

-यहां अंजनी पर्वत स्थित श्री हनुमान जन्म स्थल  और विरासत मंदिरों का दर्शन कराया जाएगा।


इस ट्रेन के सेकेंड एसी का टिकट 82,950 रुपए प्रति व्यक्ति है और फर्स्ट एसी का 1,02,095 रुपए प्रति व्यक्ति है। ट्रेन में दो फाइन डाइनिंग रेस्टोरेंट, एक मॉडर्न किचन, नहाने के लिए शावर क्यूबिकल्स जैसी सुविधाएं मिलेंगी। पूरी यात्रा में कुल 17 दिन का समय लगेगा। इस दौरान ट्रेन लगभग 7500 किलोमीटर का सफर तय करेगी।