गुणवत्ता विहीन गोदाम को तुड़वाकर पुनः कराया जाये निर्माणः डीएम

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

- मण्डी समिति के गोदाम निर्माण में डीएम को मिली गड़गड़ी

बांदा। जिलाधिकारी अनुराग पटेल द्वारा जनपद में 50 लाख से अधिक लागत की निर्माणाधीन परियोजनाओं का किया गया स्थलीय निरीक्षण। निरीक्षण के दौरान सर्वप्रथम मण्डी समिति बांदा में 5 हजार मी0टन गोदाम का निरीक्षण किया। जिसमें पाया कि गोदाम में के चारों ओर बने प्लेफार्म पर दरारें हैं जिसको तुडवाकर दोबारा मानक के अनुरूप बनाये जाने के निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान नवीन मानसिक मंदित आश्रय गृह सह प्रशिक्षण केन्द्र के निर्माणाधीन भवन का निरीक्षण किया। इसमें पाया गया कि सी0सी0रोड में कई स्थानों पर दरारें हैं तथा बाउन्ड्री वॉल भी चटकी हुई है। कार्यदायी संस्था यू0पी0सिडको के अभियंता के कार्यों पर असंतोष व्यक्त करते हुए स्पष्टीकरण मांगा गया तथा तत्काल इन कमियों को ठीक कराने के निर्देश दिये। 

निरीक्षण की अगली कडी में नवीन राजकीय मानसिक मंदित विद्यालय की गुणवत्ता देखी गयी जिसमें पाया गया कि बीम व कालम में हनी कॉम्बिंग है जिसे पुनः तुडवाकर पुनः मानक के अनुसार बनाये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने ड्राइविंग टेªनिंग इन्स्टीट्यूट के निर्माण का भी निरीक्षण किया जिसमें पाया गया कि बाउन्ड्री वॉल के कॉलम में अनेक स्थानों पर हनी कॉम्बिंग होने के कारण गिट््टी बाहर की तरफ दिख रही है। अधिशाषी अभियंता अवास विकास परिषद को इस कमी को एक सप्ताह के अन्दर ठीक कराकर अवगत कराने के निर्देश दिये।

जिलाधिकारी श्री पटेल ने सभी कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि कार्यों को पूर्ण गुणवत्ता के साथ समयबद्ध ढंग से पूर्ण करायें तथा कार्यदायी संस्थाओं के अधिकशाषी अभियंता स्वयं मौके पर जाकर अपनी स्वयं अपनी देख-रेख में कार्य सम्पादित करायें। उन्होंने कहा कि भविष्य में निर्माण कार्यों में लापरवाही पाये जाने पर कठोर कार्यवाही की जायेगी।