सेमरौना व चर्दा में सांसद ने किया कृषि कल्याण केन्द्र का उद्घाटन

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

बहराइच । तहसील मिहींपुरवा एवं नवाबगंज में किसान कल्याण केन्द्र का भव्य उद्घाटन सासंद बहराइच अक्षयबर लाल गोंड ने फीता काटकर किया। विकास खण्ड मिहींपुरवा के बहुउद्देशीय कृषि कल्याण केन्द्र के उद्घाटन अवसर पर श्री गोंड ने उपस्थित किसानों को अवगत कराया कि देश एवं प्रदेश की मोदी एवं योगी की सरकार किसानों के लिए सराहनीय कार्य कर रही है। इसी कड़ी में जनपद के सबसे पिछड़े विकास खण्ड मिहींपुरवा की ग्राम पंचायत सेमरौना में बहुउद्देशीय कृषि कल्याण केन्द्र के निर्माण का सपना पूरा हो गया है। क्षेत्र के सभी किसान भाई अपने खेतांे में अब प्रमाणित बीज आसानी से एवं अपने नजदीक प्राप्त कर तथा उसकी बोआई कर अत्यधिक उत्पादन प्राप्त कर अपनी आय दो गुनी कर सकेगें।

उन्होंने किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड समय से बनवाने की सलाह दी। क्योकिं इस कार्ड से किसान कम ब्याज पर समय से खाद, बीज एवं अन्य जरूरी चीजों की खरीदारी कर सकेगें तथा फसलें खराब होने पर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अन्तर्गत उनका स्वतः बीमा हो जायेगा। जिसपर उन्हें समय से क्षतिपूर्ति प्राप्त हो सकेगी। सरकार प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के माध्यम से फसलों की क्षति का त्वरित सर्वेक्षण कराकर लाभान्वित करने का कार्य प्रदेश सरकार कर रही है। उन्होंने उपस्थित किसानों से कहा कि जब पढ़े, लिखे लोग वैज्ञानिक ढंग से तथा समय की आवश्यकता के अनुरूप किसानी करेंगे तो स्वतः उनकी आमदनी दो गुनी हो जायेगी। उन्होंने पढ़े-लिखे युवाओं को भी खेती, किसानी में अपनी बहुमूल्य समय देने का आग्रह किया। इस अवसर उन्होंने किसानों को गेहूॅ बीज उपलब्ध कराकर केन्द्र में बीज वितरण का शुभारम्भ किया।

दूसरी ओर विकास खण्ड नवाबगंज की ग्राम पंचायत चर्दा में बने बहुउद्देशीय कृषि कल्याण केन्द्र के उद्घाटन के अवसर पर किसानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि इन केन्द्रों के माध्यम से किसानों को एक ही छत के नीचे खेती की सभी आवश्यक चीजें प्राप्त हो सकेंगी। जिसका लाभ यहां के किसानों को मिलेगा। उन्होंने किसानों को जैविक खेती करने की सलाह दी। इस अवसर पर उप निदेशक कृषि टी.पी. शाही द्वारा कृषकों को कृषि विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी दी। जैविक खेती अपनाकर अधिक लाभ प्राप्त करने की सलाह दी। उन्होंने पर्यावरणीय क्षति रोकने हेतु किसानों से पराली न जलाने का आग्रह किया तथा बताया कि सरकार द्वारा पराली जलाने पर पूर्ण प्रतिबन्ध लगा दिया गया है। फिर भी कतिपय पराली जलाने के मामले आ रहे है। जिससे जनपद का नाम अन्य जनपदों की अपेक्षा बदनाम हो रहा है। उन्होंने किसान भाईयों से अपील की कि वे पराली न जलाये। पराली को बेस्टडी कम्पोजर का उपयोग कर कम्पोस्ट खाद तैयार कर खेतों में मिलाकर अत्यधिक उत्पादन प्राप्त कर अपनी आमदनी बढ़ाये। उन्होंने किसान सम्मान निधि योजना के अन्तर्गत जिन किसानों को योजना का लाभ नही मिल रहा है या वे पात्र होते हुए भी अभी पंजीकरण नही कराये हैं वे कामन सर्विस सेण्टर पर जाकर खतौनी, बैंक पासबुक की कापी, आधार एवं घोषणा पत्र के साथ पंजीकरण कराकर योजना का लाभ ले सकते है।

जिला कृषि अधिकारी सतीश कुमार पाण्डेय ने इस अवसर पर जनपद में उपलब्ध दलहन, तिलहन एवं गेहूॅ बीज की उपलब्धता, खाद की उपलब्धता की जानकारी दी। उन्होंने किसानों से अपने खेतों में प्रमाणित बीजों का उपयोग कर अत्यधिक उत्पादन प्राप्त करने की सलाह दी। जिला कृषि अधिकारी ने जनपद के सभी किसानों से पराली न जलाने का आग्रह किया। इस अवसर पर पूर्व ब्लाक प्रमुख श्रवण कुमार मदेशिया, प्रगतिशील कृषक शिवशंकर सिंह, शिव कुमार शुक्ला, ग्राम प्रधान चन्द्रदेव सिंह, सांसद प्रतिनिधि संदीप कुमार चौबे, अनिल कुमार कुशवाहा, सुप्रीम पाण्डेय आदि सैकड़ों किसान उपस्थित रहे।