भारत संविधान दिवस 26 नवंबर को मना रहा है

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

आजादी का अमृत महोत्सव प्रगतिशील भारत के 

75 वर्ष संस्कृति उपलब्धियों के गौरवशाली 

इतिहास को मनाने और याद करने के लिए 

भारत की एक पहल है 

26 नवंबर को हम संविधान दिवस 

बड़े उत्साह उल्लास से मना रहे हैं 

देश संविधान की ताकत से चल रहा है 

सबसे बड़े लोकतंत्र की खूबसूरती सरल है 

जनअभियान बनाने जनभागीदारी सुनिश्चित करने 

दो पोर्टल विकसित किए गए हैं 23 भाषाओं में 

संविधान प्रस्तावना ऑनलाइन वाचन 

संविधान लोकतंत्र ऑनलाइन प्रश्नावली सरल है 

पोर्टल के प्रस्तावना फेम में सभी राज्यों 

केंद्रशासित प्रदेशों के कला के तत्व शामिल हैं 

पोर्टल का शुभारंभ 26 नवंबर 2021 को होगा 

जनभागीदारी उद्देश्य डिजिटल प्रश्नोत्तर शामिल हैं

प्रस्तावना पढ़ने में भाग लें ऐसा निवेदन है 

प्रमाणपत्र की तस्वीरें मीडिया पर साझा करें 

संविधान भारत का गर्व है 

हम संविधान दिवस मना रहे हैं


लेखक- कर विशेषज्ञ, साहित्यकार, कानूनी लेखक, चिंतक, कवि, एडवोकेट, किशन सनमुखदास भावनानी गोंदिया महाराष्ट्र