1 जनवरी 2020 से 30 जून 2021 तक सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों का महंगाई भत्ता बढ़ा

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

संयुक्त परिषद ने व्यक्त किया मुख्यमंत्री का आभार

लखनऊ। राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के अध्यक्ष जे एन तिवारी ने प्रदेश सरकार द्वारा 1 जनवरी 2020 से 30 जून 2021 के बीच सेवानिवृत्त होने वाले सरकारी कर्मचारियों के ग्रेच्युटी एवं राशि करण का भुगतान बढ़े हुए महंगाई भत्ते की दर पर करने के वित्त विभाग द्वारा निर्गत किए गए 9 नवंबर 2021 के आदेश का स्वागत किया है। उन्होंने एक प्रेस विज्ञप्ति अवगत कराया है कि  25 अगस्त 2021 को एक आदेश जारी कर राज्य सरकार के पेंशनरोंध् पारिवारिक पेंशनरों को एक जुलाई 2021 से महंगाई राहत को 17ः से बढ़ाकर 28ः किए जाने की स्वीकृति प्रदान की गई थी ,लेकिन एक जनवरी 2000, 01 जुलाई 2020 तथा 1 जनवरी 2021 से महंगाई राहत की अतिरिक्त किस्तों को फ्रीज कर दिया गया था। अब भारत सरकार ने 7 सितंबर 2021 को 1 जनवरी 2020 एवं  30 जून 2021 के बीच सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों के महंगाई भत्ते की दर में 11ः की वृद्धि करते हुए  मूल वेतन का 28ः की दर से महंगाई भत्ता देने के आदेश कर दिए हैं। उसी क्रम में राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद ने प्रदेश के मुख्यमंत्री जी को पत्र लिखकर उत्तर प्रदेश के राज्य कर्मचारियों के लिए भी बढ़ी हुई दर पर महंगाई भत्ता देने की मांग किया था। वित्त विभाग के विशेष सचिव नील रतन कुमार द्वारा जारी 9 नवंबर के एक आदेश के अनुसार अब 1जनवरी 2020 से 30 जून 2020 तक सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों को मूल वेतन का 21ः ,1 जुलाई 2020 से 31 दिसंबर 2020 तक सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों को मूल वेतन का 24ः तथा 1 जनवरी 2021 से 30 जून 2021 तक सेवानिवृत्त होने वाले कर्मचारियों को मूल वेतन का 28ः की दर से ग्रेच्युटी एवं राशिकरण का भुगतान किया जाएगा। परिषद के अध्यक्ष  जे एन तिवारी एवम् कार्यवाहक महामंत्री रेनू मिश्रा ने इस आदेश के लिए मुख्यमंत्री जी एवं अपर मुख्य सचिव वित्त का आभार व्यक्त किया है।