IND vs PAK: टी-20 में जारी रहा पाक के खिलाफ रोहित का खराब रिकॉर्ड

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

टी-20 विश्व कप 2021 के सबसे बड़े मुकाबले में पाकिस्तान ने टीम इंडिया को 10 विकेट से रौंद दिया। कप्तान विराट कोहली को छोड़कर ना तो टीम के बल्लेबाज चले और ना ही गेंदबाज कोई कमाल दिखा सके। इस मैच में भारतीय फैन्स की निगाहें विराट से ज्यादा रोहित शर्मा के ऊपर टिकी हुई थीं और हर किसी को बस यही उम्मीद थी कि हिटमैन वॉर्मअप मैच की तरफ इधर भी खूब धूम-धड़ाका करेंगे। चौकों-छक्कों की बरसात तो दूर की बात है रोहित तो अपना खाता तक नहीं खोल सके। भारतीय टीम के उपकप्तान मैच की अपनी पहली ही गेंद पर पवेलियन लौट गए। शाहीन अफरीदी के खिलाफ एकबार फिर रोहित की सबसे बड़ी कमजोरी उजागर हुई और फटाफट क्रिकेट में पड़ोसी मुल्क के खिलाफ उनका शर्मनाक प्रदर्शन भी जारी रहा। 

यह बात किसी से भी छुपी नहीं है कि बाएं हाथ के तेज गेंदबाज रोहित को हमेशा ही शुरुआत में दिक्कतें पैदा करते हैं। रोहित इनिंग के स्टार्ट में बाएं हाथ के फास्ट बॉलर के आगे बिलकुल भी सहज नजर नहीं आते हैं और अंदर आती हुई गेंदें उनको परेशानी में डालती है। रोहित की इसी कमजोरी का फायदा उठाया पाकिस्तान के तेज गेंदबाज शाहीन शाह अफरीदी ने, जिन्होंने हिटमैन को पहली ही गेंद अंदर की तरफ फेंकी और रोहित जबतक कुछ समझ पाते तबतक बॉल उनके पैड पर जा टकराई और अंपायर ने बिना किसी संकोच के अपनी उंगली खड़ी कर दी। यह पहला मौका नहीं है कि जब रोहित इस तरह से आउट हुए हों, हिटमैन की यह कहानी बहुत पुरानी है और 2017 चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में भी मोहम्मद आमिर ने कुछ इसी तरह से रोहित को बिना खाता खोले चलता किया था। 

रोहित का बल्ला वनडे में जरूर पाकिस्तान के खिलाफ जमकर बोलता हो, लेकिन क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में हिटमैन की कहानी पूरी तरह से गड़बड़ रही है। रोहित ने पड़ोसी मुल्क के खिलाफ अबतक अपने करियर में 8 टी-20 मैच खेले हैं, जिसमें उनके बल्ले से महज 70 रन निकले हैं। स्ट्राइक रेट सिर्फ 127.27 का रहा है और औसत 14 की। हिटमैन का फटाफट क्रिकेट में पाकिस्तान के खिलाफ सर्वाधिक स्कोर 30 रन का रहा है। इन खराब आंकड़ों को बदलने का रोहित के पास रविवार को शानदार मौका था, पर फैन्स की उम्मीदों पर खरा नहीं उतर सके।