Dussehra : दूर होंगी नकारात्मक शक्तियां, आज के दिन करें यह उपाय

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

आश्विन मास में शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को दशहरा का त्योहार मनाया जाता है। इस त्योहार को लेकर मान्यता है कि इस दिन प्रभु श्रीराम ने रावण और मां दुर्गा ने महिषासुर का वध किया था। वास्तु के अनुसार दशहरा पर कुछ उपाय करने से जीवन में सुख समृद्धि पाई जा सकती है। आइए जानते हैं इन उपायों के बारे में।

मान्यता है कि दशहरा पर अस्त्र-शस्त्र का पूजन करने से शत्रुओं से छुटकारा मिलता है। जीवन में तरक्की के रास्ते खुलते हैं। दशहरा पर सुंदरकांड का पाठ करने से मानसिक और शारीरिक व्याधियां दूर हो जाती हैं। इस दिन घरों में ईष्ट देवता की पूजा के साथ महाकाली की उपासना करें। इस दिन माता लक्ष्मी का पूजन किया जाता है। दशहरा पर शाम के समय माता लक्ष्मी का ध्यान करते हुए किसी मंदिर में झाड़ू का दान करें। इस दिन पुस्तकों, वाहन आदि की पूजा की जाती है। दशहरा के दिन घर के ईशान कोण में रोली, कुमकुम या लाल रंग के फूलों से रंगोली या अष्टकमल की आकृति बनाएं। इससे मां लक्ष्मी प्रसन्न होती हैं। नकारात्मक शक्तियों को घर से दूर रखने के लिए सरसों के तेल में रावण दहन की राख को रखकर घर के हर कोने में छिड़कना चाहिए। इस दिन सामर्थ्य के अनुसार दान करें और गरीबों को भोजन कराएं। बड़े-बुजुर्गों के पैर छूकर उनसे आशीर्वाद प्राप्त करें। शमी के पेड़ के नीचे दीपक जलाएं। मान्यता है कि ऐसा करने से सफलता का मार्ग प्रशस्त होता है। दशहरा के दिन नीलकंठ पक्षी का दर्शन करना अत्यंत शुभ माना जाता है।