Dussehra 2021: सुख-शांति और सौभाग्य के लिए दशहरे के दिन करें ये उपाय

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

बुराई पर अच्छाई की जीत के प्रतीक त्योहार दशहरा का विशेष महत्व होता है। दशहरा को विजयदशमी या विजयादशमी के नाम से भी जानते हैं। हिंदू पंचांग के अनुसार, आश्विन मास की शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को दशहरा मनाया जाता है। इस साल दशहरा आज यानी 15 अक्टूबर 2021 को है। विजयदशमी के दिन शस्त्र पूजा का भी विशेष महत्व है। मान्यता है कि दशहरा के दिन किए जाने वाले उपाय सफल होते हैं। सुख-शांति और सौभाग्य के लिए दशहरा के दिन करें ये उपाय-

1. विजयादशमी के दिन रावण दहन के पूर्व घर के ईशान कोण में चंदन, कुमकुम और लाल पुष्प से अष्टदल कमल की आकृति बनाना शुभ होता है। माना जाता है कि इसके बाद सभमी के पेड़ की जड़ से कुछ मिट्टी लाकर पूजा स्थल में रखनी चाहिए। ऐसे करने से मान्यता है कि घर में सुख-समृद्धि और सौभाग्य आता है।

2. मान्यता है कि व्यवसाय या नौकरी के लिए दशहरे की पूजा के बाद गरीबों को फल दान करना चाहिए।  कहते हैं कि ऐसा करने से रोजी-रोजगार और नौकरी में तरक्की के योग बनते हैं।

3. दशहरा के दिन मान्यता है कि शस्त्र पूजन करने से भी शुभ फल की प्राप्ति होती है।

माता पार्वती के श्राप के कारण पूर्व जन्म में मेंढक थीं मंदोदरी, जानें कैसे हुआ था उनका रावण संग विवाह

4.  मान्यता है कि दशहरे के दिन शमी के वृक्ष के नीचे घी का दीपक जलाना शुभ होता है। कहते हैं कि ऐसा करने से कार्यों में सफलता हासिल होती है।

5. मान्यता है कि दशहरा के दिन भगवान शिव का प्रतीक नीलकंठ के दर्शन होना शुभ होता है। नीलकंठ को सौभाग्य का प्रतीक मानते हैं।

6. दशहरा या विजयादशमी के दिन जगह-जगह रावण दहन किया जाता है। कहते हैं कि घर से नकारात्मक ऊर्जा दूर करने के लिए रावण की राख को सरसों के तेल में मिलाकर घर की हर दिशा में छिड़काव करना चाहिए।