पीएम स्वनिधि योजना डिजिटल लेन देन एक उदाहरण: प्रधानमंत्री जी

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

जनमंच में 1500 लाभार्थियों को आवास की चॉबी सौंपी

सहारनपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर भारत की सफलता आज दुनिया देख रही है। उन्होने कहा कि आज भारत आधुनिकता के साथ हर क्षेत्र में आगे बढ रहा है। हम सब मिलकर देश को बहुत आगे ले जा सकते है। पीएम स्वनिधि योजना डिजिटल लेन देन का एक उदाहरण है जिसने यह सिद्ध कर दिया है कि कैसे एक आम आदमी निरन्तर आधुनिकता की ओर बढ रहा है। उन्होने कहा कि 2017 से पूर्व उत्तर प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 18000 आवास स्वीकृत किये गये थे परन्तु 18 आवास भी नहीं बने। 2017 के बाद अब उत्तर प्रदेश प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत आवास प्रदान करने में देश में प्रथम स्थान पर है। उधर, प्रधानमंत्री जी के सजीव प्रसारण के बाद जनमंच सभागार में लाभार्थियों को प्रधानमंत्री आवास योजना के 1500 लाभार्थियों को आवास की प्रतीकात्मक चाबी सौंपी गयी। जनपद में 25715 आवास स्वीकृत है जिनमें से 12850 आवास पूर्ण हो चुके है। 

प्रधानमंत्री जी आज लखनऊ स्थित इन्दिरा गांधी प्रतिष्ठान से स्मार्ट सिटी मिशन, अमृत मिशन, प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को चाभी वितरण तथा प्रदेश के 07 जनपदों में स्मार्ट इलेक्ट्रिक बस का फ्लैग ऑफ सहित विभिन्न परियोजनाओं को लोकार्पण और शिलान्यास के समय यह बात कही। उन्होने वहां आधुनिक आवासीय तकनीकों पर आधारित प्रदर्शनी का अवलोकन किया। उन्होने उत्तर प्रदेश के 75 जिलों के 75,000 लाभार्थियों को प्रधानमंत्री आवास योजना-शहरी के तहत निर्मित घरों की चाबियां डिजिटली सौंपी। उन्होने उत्तर प्रदेश की 10 स्मार्ट सिटी की 75 सफल कहानियों की कॉफी टेबल बुक का डिजिटल विमोचन भी किया। उन्होंने स्मार्ट सिटी मिशन और अमृत मिशन में 4,737 करोड़ रुपये की लागत की कुल 75 परियोजनाओं का डिजिटल लोकार्पण और शिलान्यास किया। इसके अलावा उन्होंने 75 आधुनिक इलेक्ट्रिक बसों को लखनऊ, कानपुर, वाराणसी, प्रयागराज, गोरखपुर, झांसी और गाजियाबाद के लिए रवाना किया।

नरेन्द्र मोदी ने कहा कि ‘मुझे अच्छा लगा कि 3 दिनों तक लखनऊ में भारत के शहरों के नए स्वरूप पर देशभर के विशेषज्ञ एकत्र होकर मंथन करने वाले हैं। यहां जो प्रदर्शनी लगी है, वो आजादी के इस अमृत महोत्सव में 75 साल की उपलब्धियां और देश के नए संकल्पों को भलीभांति प्रदर्शित करती हैं। उन्होंने कहा मुझे इस बात की खुशी होती है कि देश में पीएम आवास योजना के तहत जो घर दिए जा रहे हैं, उनमें 80 प्रतिशत से ज्यादा घरों पर मालिकाना हक महिलाओं का है। उन्होंने कहा कि 2014 के बाद से हमारी सरकार ने पीएम आवास योजना के तहत शहरों में 1 करोड़ 13 लाख से ज्यादा घरों के निर्माण की मंजूरी दी है। इसमें से 50 लाख से ज्यादा घर बनाकर गरीबों को सौंपे भी जा चुके हैं। पीएम ने कहा, ‘भारत आज पीएम आवास योजना के तहत जितने पक्के घर बना रहा है वो दुनिया के अनेक देशों की कुल आबादी से भी अधिक हैं।  

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विभिन्न प्रकार की योजनाओं ने शहरी परिवेश को बदलने और प्रत्येक नागरिक के जीवन में व्यापक परिवर्तन लाने में सफलता प्राप्त की है। उन्होने कहा कि 2017 से पहले उत्तर प्रदेश के अन्दर 654 नगर निकाय थे आज इनकी संख्या बढकर 734 हो गयी है। इन निकायों के माध्यम से देश की बडी आबादी को बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही है। स्वच्छ भारत मिशन न केवल नारी गरिमा अपितु प्रत्येक नागरिक के जीवन में स्वस्थ भारत की परिकल्पना को साकार करने में भी मील का पत्थर साबित हुआ है। 2017 के बाद उत्तर प्रदेश के अन्दर ग्रामीण और शहरी क्षेत्र 02 करोड 61 लाख से अधिक व्यक्तिगत शौचालयों का निर्माण हुआ। उन्होने कहा कि नगर निकायों में से 595 ओडीएफ प्लस तथा 30 नगर निकाय ओडीएफ $$ के लक्ष्य को प्राप्त कर चुके है। उत्तर प्रदेश में ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में अब तक 42 लाख से अधिक परिवारों को एक-एक आवास उपलब्ध करा चुका है। शहरी क्षेत्र में 17 लाख से अधिक लोगों को आवास उपलब्ध कराया गया है। उन्होने कहा कि उत्तर प्रदेश के 60 नगर निकाय में 11421 करोड़ रूपये की लागत से पेयजल, सीवरेज, ग्रीन बेल्ट और पार्क के निर्माण की परियोजनाएं पूरी हो चुकी है। उन्होने कहा कि 08 करोड़ लोगों के कोविड टैक्ट तथा 11 करोड़ से अधिक कोराना वैक्सीनेशन डोज दी जा चुकी है। 07 लाख से अधिक स्ट्रीट वेण्डर्स को बैंक से लोन दिलाया गया है। 

कार्यक्रम के दौरान लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या, डॉ0 दिनेश शर्मा सहित अन्य राज्यों के मंत्रीगण और वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित रहे। जनमंच में जिला पंचायत अध्यक्ष मांगेराम चौधरी, जिलाधिकारी अखिलेश सिंह, पूर्व सांसद राघव लखनपाल शर्मा, नगर आयुक्त ज्ञानेन्द्र सिंह, महानगर अध्यक्ष राकेश जैन, दिनेश सेठी, पीओ डूडा डॉ0 अनुज प्रताप सिंह, मोहित तलवार तथा अन्य जनप्रतिनिधिगण और अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Popular posts
मुझ पर दोस्तों का प्यार, यूँ ही उधार रहने दो |
Image
चिट्टियां कैसे लिखी जाती थी
Image
राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वाधान में व प्रभारी जिला जज/ अध्यक्ष विधिक सेवा प्राधिकरण के मार्गदर्शन में आजादी अमृत महोत्सव हुआ कार्यक्रम
Image
70 साल की उम्र में UP विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष सुखदेव राजभर ने ली अंतिम सांस, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, अखिलेश यादव ने जताया शोक
Image
असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा, रोज़गार और कल्याणकारी योज़नाओं का लाभ उठाने ई-श्रमिक पोर्टल पर पंजीकरण मील का पत्थर साबित होगा
Image