जिले में माध्यमिक विद्यालयों की बदली जाएगी सूरत-डीएम

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

गोंडा । मिशन कायाकल्प के तहत प्राथमिक विद्यालयों का कायाकल्प कराने के बाद प्रदेश सरकार द्वारा अभिनव पहल करते हुए माध्यमिक विद्यालयों में प्रोजेक्ट अलंकार योजनान्तर्गत के तहत विद्यालयों का अनुरक्षण कार्य कराया जाएगा। गुरूवार को इस सम्बन्ध में कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही की अध्यक्षता में जिला स्तरीय समिति की बैठक आयाजित हुई जिसमें जिले के 24 माध्यमिक विद्यालयों के कायाकल्प के सम्बन्ध में निर्णय लिया गया।जिलाधिकारी ने कहा कि प्रोजेक्ट अलंकार योजनान्तर्गत जिले के 24 विद्यालयों का अनुरक्षण कार्य कराया जाएगा जिसमें विद्यालय की बाउन्ड्रीवाल,, छत व फर्श की मरम्मत, खिड़की-दरवाजे की मरम्मत, रंगाई-पुताई, शौचालय, पेयजल व्यवस्था, गेट की मरम्मत, दिव्यांग रैम्प की मरम्मत व निर्माण, खेल का मैदान, प्रयोगशाला निर्माण, मल्टी परपज हाॅल, पुस्तकालय कक्ष, रेन वाटर हार्वेस्टिंग आदि का कार्य कराया जाएगा।बैठक में समिति के अध्यक्ष जिलाधिकारी ने जिला विद्यालय निरीक्षक को निर्देशित किया कि कनवर्जन्स के सम्बन्ध में विधिवत परीक्षण करा लें तथा अनुमन्यता के अनुरूप कार्य कराने हेतु कार्यों का चयन कराएं। यह भी निर्देश दिए कि तकनीकी समिति इस बात का सत्यापन कर लें कि किस विद्यालय मंें शासन से निर्धारित 12 पेरामीटर पर कराया जाना है। उन्होंने निर्देश दिए कि तकनीकी समिति के रिपोर्ट के आधार पर शीघ्र ही शासन को प्रपोजल भेजें जिससे शासन से बजट प्राप्त कर माध्यमिक विद्यालयों का अनुरक्षण कार्य शुरू कराया जा सके।बैठक में मुख्य विकास अधिकारी शशांक त्रिपाठी, जिला विद्यालय निरीक्षक राकेश कुमार, डीपीआरओ सभाजीत पाण्डेय, एक्सईएन पीडब्ल्यूडी खण्ड-1 लाल जी,  जीजीआईसी व जीआईसी के प्रधानाचार्य, दिवाकर मिश्रा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।