राजस्थान: गहराता जा रहा बिजली संकट, शहरों में कई घंटों तक कटौती

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

जयपुर : राजस्थान में बिजली संकट गहराता जा रहा है। सरकार का बिजली उत्पादन से लेकर खरीद और वितरण प्रबंधन पूरी तरह चरमरा गया है। बिजली उत्पादन के लिए कोयले की खरीदारी समय पर नहीं होने से उत्पादन पर असर पड़ने लगा है।  प्रदेश के कई जिलों में घोषित और अघोषित बिजली कटौती शुरू हो गई है। बिजली संकट को देखते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने जागरूकता फैलाने की अपील की है। साथ ही अधिकारियों से एयर कंडिशनर (एसी) कम चलाने का आग्रह किया है। ।

राज्य सरकार ने खुद भी माना है कि प्रदेश में बिजली संकट बढ़ा है। हालात ये हैं कि राजधानी में ही शुक्रवार को करीब 200 कॉलोनी और बस्तियों में 4 से 7 घंटे तक बिजली सप्लाई नहीं आने की घोषणा की जा चुकी है।  राजस्थान में 35 डिग्री से ऊपर के तापमान के बीच लोगों को गर्मी में रहना पड़ रहा है। जयपुर डिस्कॉम क्षेत्र में आने वाले ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में 2 से 5 घंटे की बिजली कटौती की जा रही है। जोधपुर डिस्कॉम क्षेत्र के अंतर्गत कई जिलों में कंपनी की ओर से बिजली कटौती लागू की गई है।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वह लोगों को बिजली बचाने के लिए जागरूक करें। इसके साथ ही सरकारी अधिकारियों को भी कहा है कि वह एसी कम चलाएं और बिजली की बचत करें। सरकारी विभागों में भी जरूरत के समय ही बिजली खर्च की जाए, बाकी समय उपकरणों को बंद रखा जाए। उन्होंने कहा कि छोटी-छोटी बातों पर ध्यान रखकर बिजली को बचया जा सकता है।