ईशा गुप्ता ने किया खुलासा, साथ सोने से इंकार किया तो प्रोड्यूसर फिल्म से निकालना चाहता था

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

बॉलीवुड अभिनेत्री ईशा गुप्ता को फिल्म इंडस्ट्री में दो बार कास्टिंग काउच का शिकार होना पड़ा। उन्होंने अपने एक इंटरव्यू में इस अनुभव के बारे में खुलकर बात की है। ईशा गुप्ता का कहना है कि जो लोग इंडस्ट्री से बाहर के होते हैं, उन्हें ज्यादा समस्या का सामना करना पड़ता है। फिल्म उद्योग से जुड़े हुए परिवारों के बच्चों को कास्टिंग काउच का सामना नहीं करना पड़ता। ईशा गुप्ता ने कहा कि एक बार मैंने जब फिल्म के प्रोड्यूसर के साथ सोने से मना किया, तो वह मुझे फिल्म से बाहर निकालना चाहता था। गौरतलब है कि अभिनेत्री ईशा गुप्ता ने अपने अभिनय करियर की शुरुआत इमरान हाशमी के साथ फिल्म जन्नत 2 से की थी। इसके बाद वह रुस्तम, पलटन और बादशाहों जैसी फिल्मों में दिखीं। अब उन्होंने अपने एक इंटरव्यू में फिल्म इंडस्ट्री में होने वाले कास्टिंग काउच के बारे में खुलकर बातचीत की है।

ईशा गुप्ता ने अपने इंटरव्यू में कहा, मैं उनदिनों मेकअप आर्टिस्ट के साथ अपना कमरा साझा करती थी। मैंने डरने का बहाना बनाया हुआ था और कहा था कि मैं कमरे में अकेली नहीं सो पाऊंगी। लेकिन असल बात यह थी कि मैं वहां किसी भूत से नहीं बल्कि एक इंसान से डरा करती थी। क्योंकि आपको पता नहीं होता कि वे कब आपको निकाल दें। उन्होंने कहा कि समस्या यह भी है कि वे केवल हमारे साथ कास्टिंग काउच करते हैं, वे इंडस्ट्री के बच्चों के साथ ऐसा नहीं करेंगे, क्योंकि वहां उनके माता-पिता आएंगे और उन्हें मार देंगे। लेकिन हमारे लिए वे यह सोचकर करेंगे कि इसे काम चाहिए।

ईशा गुप्ता ने कहा, मैंने एक ऐसे इंसान का गंदा रूप देखा था, जो उसके साथ नहीं सोने पर मुझे फिल्म से बाहर निकालना चाहता था। फिल्म की शूटिंग चल रही थी और बीच में आकर प्रोड्यूसर ने कहा कि उन्हें मेरे साथ काम नहीं करना है। उस वक्त तक चार से पांच दिन की शूटिंग भी हो गई थी। वह मुझे इसलिए फिल्म से बाहर निकालना चाहता था क्योंकि मैंने उसके साथ सोने से इंकार किया था। ईशा ने कहा कि इस दौरान फिल्म के डायरेक्टर ने उनका साथ दिया और समर्थन में खड़े रहे और प्रोड्यूसर को मना कर दिया। ईशा गुप्ता ने कहा, प्रोड्यूसर ने डायरेक्टर से कहा कि मैं उसे फिल्म में नहीं चाहता तो फिर वह यहां क्यों है? उस वक्त शूटिंग चल रही थी और डायरेक्टर ने कहा, वह मेरी हीरोइन है। डायरेक्टर मेरे पास आये और पूछा, क्या इस लड़के के साथ ऐसा हुआ है। मैंने उनकी तरफ देखा, हंसी और कहा 'हां सर। क्यों? वह बोला, नहीं। उसने मुझसे अभी कहा 'ईशा फिल्म में क्यों है? ईशा गुप्ता ने कहा कि  मुझे एहसास हुआ ऐसे लोग भी हैं जो मुझे काम नहीं देते, क्योंकि वे कहते हैं- वह कुछ नहीं करने जा रही है, क्या बात है?