नवरात्रि का है व्रत तो बनाएं फलाहारी समोसे

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

नवरात्रि का पावन पर्व शुरू हो गया है। नौ दिनों के इस पर्व में भक्त देवी माता की पूजा करते हैं और इस दौरान व्रत रखते हैं। इस व्रत में लोग फलाहार करते हैं। जिसमें आलू, दही, फल, सिंघाड़े या कुट्टू का आटा आदि से बने फलाहार को खाते हैं। लेकिन 9 दिन तक व्रत रहने के दौरान लोग एक ही तरह की डिश खाते खाते बोर हो जाते हैं। ऐसे में इस नवरात्रि हर दिन एक खास फलाहारी व्यंजन बनाएं। मां दुर्गा को भोग लगाने के बाद खुद भी खाएं और घर में सब को खिलाएं। ताकि फलाहार को भी लोग स्वाद के साथ खा कर खुश हो जाएं। इस बार नवरात्रि 8 दिनों की है। व्रत वाले खाने की जो रेसिपी यहां बताई जा रही है, वह बनाने में आसान भी होगी और स्वादिष्ट भी। चलिए जानते हैं व्रत वाले फलाहारी समोसे बनाने की रेसिपी।

व्रत के समोसे बनाने के लिए सामग्री

व्रत में अनाज नहीं खाया जाता है। इसलिए फलाहारी समोसे सिंघाड़े के आटे के बनाए जाएंगे। सिंघाड़े के आटे के समोसे बनाने के लिए एक कप सिंघाड़े का आटा, ¼ कप अरारोट, घी, एक चम्मच सेंधा नमक, चिरौंजी पानी में भीगी हुई, मिर्च पाउडर, जीरा, दो चम्मच धनिया पाउडर, आधा चम्मच इलाइची।

फलाहारी समोसे बनाने की रेसिपी

सिंघाड़े के आटे का समोसा बनाने के लिए सबसे पहले समोसे का भरावन तैयार करेंगे। यहां हम आलू के समोसे नहीं बना रहे बल्कि चिरौंजी के बना रहे हैं। आप चाहें तो आलू या पनीर का इस्तेमाल भी कर सकते हैं। 

स्टेप 1 -समोसे की स्टफिंग तैयार करने के लिए चिरौंजी को दो घंटे के लिए पानी में भिगो लें। फिर उसे छीलकर मिक्सी में पीस लीजिए।

स्टेप 2- एक पैन में दो बड़े चम्मच घी डालकर गर्म करें। अब उसमें जीरा भूने। भूरा होने पर पैन में चिरौंजी और बाकी का बरावन जैसे मिर्च, धनिया आदि डालकर फ्राई कर लें।

स्टेप 3- इस मिश्रण को हल्की आंच में भूनें। पकने के बाद गैस बंद करके भरावन को ठंडा होने के लिए रख दें। समोसे का भरावन तैयार है।

स्टेप 4- अब समोसे का आटा गूंथेंगे। इसके लिए एक बर्तन में पानी, घी और एक चम्मच नमक मिलाकर उबाल लीजिए।

स्टेप 5- जब पानी उबल जाए तो उसमें सिंघाड़े का आटा और अरारोट मिला लें। इसे अच्छे से मिक्स करें ताकि गांठ न पड़े। इस मिश्रण को हल्की आंच में पकाएं।

स्टेप 6-जब आटे का ये मिश्रण आपस में चिपकने लगे तो गैस बंद करके इसे ठंडा होने के लिए रख दें। ठंडा होने के बाद आटे की मोटी लोई बनाएं। फिर उसे बेल लीजिए।

स्टेप 7- जिस आटे को बेला है, उसके किनारों पर पानी लगाकर गीला कर लें और बीच से आधा काट लें। जैसे समोसे भरते हैं, वैसे ही कोन का आकार देकर भरावन वाली सामग्री भर लें और ऊपर से बंद कर दें।

स्टेप 8- अब कड़ाही में घी डालकर गर्म करें और उसमें सिंघाड़े के आटे के समोसे को तल लें। ध्यान रहे कि आंच मध्यम हो। जब समोसा सुनहरा रंग को हो जाएं तो निकाल कर गर्मागर्म सर्व करें। 

posted by - दीपिका पाठक