गिद्धों का अल्टिमेटम

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

अब गिद्ध सभी अदृश्य हो गए। 

गिद्ध लोक मे चिंता व्यापी। 

ब्रह्म लोक में धरना के हित होने लगी है आपाधापी।।

बैठक का क्रम जारी है।

विशाल धरने की तैयारी है।

हक पर डांका पड़ते देख, गिद्धों का पलड़ा भारी है।।

भुखमरी गरीबी, को लेकर, सर्वदलीय बैठक करने वाले हैं। 

ब्रह्मा जी चिंतित दिखते, दुख जल्दी हरने वाले हैं।। 

विष्णु महेश संग ब्रह्मा की, मुकम्मल तैयारी है। 

बदनामी से बचने को, ब्रह्मा की लाचारी है।।

अगले सोमवार को बैठक ब्रह्मा जी बुलवाये हैं। 

चिंता साफ़ झलकती मुख पर, जबसे अल्टीमेटम पाए हैं।। 

गिद्धों ने  दो टूक कहा है, अगर भोजन नहीं हम पाएंगे। 

देवलोक के देवों को हम नोच नोच खाजाएंगे।।

गौरीशंकर पाण्डेय सरस