बॉडी पोस्चर को ठीक में मददगार हैं ये योगासन

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

अक्सर हमारी गलत आदतों के कारण हमारा बॉडी पोस्चर खराब हो जाता है। कुछ लोग तो ऐसे भी होते हैं, जो बहुत ज्यादा झुक कर चलते हैं। कई लोगों का पेट बाहर निकल आता है, तो कुछ लोगों का कमर का हिस्सा बाहर की तरफ निकला हुआ होता है। इन गलत बॉडी पोस्चर के कारण व्यक्ति को कई दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। अमूमन ये देखने को मिलता है कि हमारी गलत लाइफस्टाइल के कारण हमारे शरीर के भीतर कई परेशानियां जन्म लेती हैं। इससे व्यक्ति की रीढ़ की हड्डी टेढ़ी हो जाती है। कंधे, कमर और गर्दन में भी कई दिक्कतें आती हैं। योग के जरिए  हम अपने बॉडी पोस्चर को ठीक कर सकते हैं। ऐसे कई योगासन हैं, जिन्हें रोजाना करने से शरीर की दशा ठीक होती है। कुबड़ापन जैसी समस्या से हमको छुटकारा मिलता है। इसी कड़ी में आइए जानते हैं वह कौन कौन से योगासन हैं, जिनकी मदद से हम अपने बॉडी पोस्चर को ठीक कर सकते हैं। 

बाल मुद्रा 

ये आसन बॉडी पोस्चर को सुधारने के लिए रामबाण उपाय है। इसे करने से आपकी रीढ़ की हड्डी स्ट्रेच होती है। बाल मुद्रा आसन आपके ग्लूट्स, हैमस्ट्रिंग, गर्दन और कंधे को सही पोस्चर में लेकर आता है। इस आसन को करने से शरीर की कई समस्याओं से छुटकारा मिलता है।

मार्जरी आसन

अगर आप भी गलत बॉडी पोस्चर की समस्या से परेशान हैं, तो आप इस आसन को कर सकते हैं। इसे करने से शरीर में लचीलापन बढ़ता है। रीढ़ के स्वास्थ्य के लिए इस आसन को काफी अच्छा माना गया है। मार्जरी आसन को नियमित करने पर आपकी छाती खुलती है और सांस लेने की गति में सुधार होता है।  

प्लैंक 

शरीर की दशा को सुधारने में ये आसन काफी लाभदायक है। इस आसन को नियमित तौर पर करने से मांसपेशियों में सुधार होता है। प्लैंक आसन आपकी कोर की मसल्स और स्पाइन एरिया को मजबूत करने का काम करता है। 

अधोमुख श्वानासन 

इस आसन को करने से आपका बॉडी पोस्चर काफी बढ़िया हो जाता है। इस आसन के प्रयोग से शरीर के भीतर ब्लड का सर्कुलेशन बढ़ता है। वहीं मांसपेशियां मजबूत होती हैं। इसके अलावा अधोमुख श्वानासन करने  से शरीर को कई सकारात्मक लाभ भी पहुंचते हैं।