प्रधानमंत्री 15 सूत्री कार्यक्रम अल्पसंख्यकों के लिये वरदान : सदर विधायक अनुपमा जयसवाल

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

आजादी का अमृत महोत्सव युवाओं के लिये आवश्यकरू सहकारिता मंत्री प्रतिनिधि गौरव वर्मा

कोविड-19 से मृत्यु पर पत्रकारों को मिलेगी 5 लाख की मदद- आर.पी.सरोज, एडीजी दूरदर्शन

बहराइच । भारत सरकार के सूचना प्रसारण मंत्रालय के पत्र सूचना कार्यालय लखनऊ द्वारा बहराइच जिले की कैसरगंज तहसील में ग्रामीण पत्रकारों के लिये ‘’वार्तालाप’’ कार्यशाला का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि सहकारिता मंत्री के प्रतिनिधि गौरव वर्मा, सदर विधायक श्रीमती अनुपमा जयसवाल और पीआईबी एवं दूरदर्शन के एडीजी आर.पी.सरोज ने शिरकत की। कार्यक्रम में उप जिलाधिकारी कैसरगंज महेश कैथल, मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. एस.के. सिंह, उप निदेशक कृषि टी.पी.शाही, जिला प्रोबेशन अधिकारी विनय सिंह, रामबरन वर्मा (आज तक) विनय कुमार सिंह  (राष्ट्रीय सहारा), संतोष शुक्ला (रेडियो जाकी बागेश्वरी एफ.एम.) आदि ने अपने विचार व्यकत किये।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुये सदर विधायक श्रीमती अनुपमा जयसवाल ने कहा कि आजादी का अमृत महोतस्व कार्यक्रम भारत सरकार के द्वारा एक अच्छी पहल है। उन्होंने कहा कि अगर हम आज इस काय़र्शाला में स्वतंत्र रुप से बैठे है तो इसके लिये उन क्रांतिकारियों का गुणगान आवश्यक है जिन्होंने आजादी के लिये अपनी जान तक दे दी। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री का अल्पसंख्यको के कल्याण के लिये 15 सूत्रीय कार्यक्रम अल्पसंख्यकों के लिये वरदान है। 15 सूत्री कार्यक्रम में एकीकृत बाल विकास सेवाओं की समुचित व्यवस्था, विद्यालयी शिक्षा की उपलब्धता को सुधारना सर्व शिक्षा अभियान, कस्तूरबा गांधी बालिका योजना आदि योजनाओं से अल्पसंख्यकों का उत्थान हो रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार कि योजनाये बिना किसी भेदभाव के सभी के लिये हैं और जिले में मिशन मोड में लागू की जा रही है।

उतर प्रदेश के सहकारिता मंत्री के प्रतिनिधि गौरव वर्मा ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुये कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के पर्व पर भारत सरकार द्वारा आयोजित ग्रामीण मीडिया कार्यशाला लोगो को जागरुक करने के लिये सहायक है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना से कोई भी गरीब अब भूखे पेट नहीं सोता है और कोरोना के समय में यह योजना वरदान साबित हुयी है।

दूरदर्शन और पीआईबी के एडीजी आर.पी.सरोज ने सूचना प्रसारण मंत्रालय द्वारा चलाया जा रही है ‘’पत्रकार कल्याण योजना’’ से पत्रकारों को अवगत कराया जिसके अंतर्गत यदि किसी पत्रकार की कोविड-19, दुर्घटना या बीमारी से मृत्यु हो जाती है तो उसे सरकार द्वारा पांच लाख रुपये तक की आर्थिक मदद दी जायेगी। तहसील कैसरगंज के उप जिलाधिकारी महेश कुमार कैथल ने भारत सरकार द्वारा संचालित तमाम योजनाओं की जानकारी देते हुये ,पीआईबी द्वारा आयोजित कार्यक्रम की सराहना की।उन्होंने कहा कि जिले के पत्रकारों को बिना किसी भेदभाव के एक समान रुप से सरकारी खबरें उपलब्ध करायी जा रही है।

मुख्य चिकत्साधिकारी डॉ. एस.के. सिंह ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुये कहा कि जिले में केन्द्र सरकार द्वारा चलाया गया विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान तेजी से चल रहा है। उन्होंने कहा कि यदि किसी पत्रकार या उनका परिवार टीकाकरण कराना चाहता है तो उनके लिये अलग से विशेष कैम्प लगवा दिये जायेगें। अगर कोरोना को मात देनी है तो इसके लिये अति आवश्यक है कि टीकाकरण अभियान जन जन तक पहुंचे और उसके लिये पत्रकारों का सहयोग आवश्यक है।

कार्यक्रम का संचलान मीडिया संचार अधिकारी (पीआईबी) सुन्दरम चौरसिया द्वारा किया गया। जबकि जयचंद्र सोनी (दूरदर्शन बहराइच), अविनाश शरण (पीआईबी) एवं सुशील प्रजापति द्वारा सफल संयोजन किया गया।




Popular posts
मुझ पर दोस्तों का प्यार, यूँ ही उधार रहने दो |
Image
चिट्टियां कैसे लिखी जाती थी
Image
राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वाधान में व प्रभारी जिला जज/ अध्यक्ष विधिक सेवा प्राधिकरण के मार्गदर्शन में आजादी अमृत महोत्सव हुआ कार्यक्रम
Image
70 साल की उम्र में UP विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष सुखदेव राजभर ने ली अंतिम सांस, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, अखिलेश यादव ने जताया शोक
Image
असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा, रोज़गार और कल्याणकारी योज़नाओं का लाभ उठाने ई-श्रमिक पोर्टल पर पंजीकरण मील का पत्थर साबित होगा
Image