भारतीय जनता पार्टी द्वारा आयोजित किसान सम्मेलन हुआ सम्पन्न

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

मऊ जनपद में भारतीय जनता पार्टी द्वारा हिन्दी भवन में आयोजित किसान सम्मेलन में किसान मोर्चा के नवनियुक्त जिलाध्यक्ष सचिन्द्र सिंह तथा क्षेत्रीय मंत्री यादवेंद्र सिंह व अंजनी सिंह के जनपद में प्रथम आगमन पर भव्य स्वागत किया गया। अपने स्वागत से अभिभूत तथा किसान सम्मेलन में उपस्थित जनसमूह तथा शीर्ष नेतृत्व के प्रति आभार व्यक्त करते हुए नवनियुक्त जिलाध्यक्ष सचिंद्र सिंह ने कहा की हमारा देश कृषि प्रधान देश है और हमारे देश की अर्थव्यवस्था में किसानों की सबसे अधिक महत्वपूर्ण भूमिका है। किसान हमारे देश के रीड़ की हड्डी है। किसानों के हित और सम्मान के लिए भाजपा की सरकार सदैव तत्पर रहती है। मानव सभ्यता जबसे है, तब से ही हमारे देश में किसानों की भूमिका महत्वपूर्ण रही है। कोरोना काल में भी जब सारे व्यापार ठप्प हो गए थे, तब इन्ही किसानों और किसानी ने ही देश की अर्थव्यवस्था को संभाला। श्री सिंह ने यह भी कहा कि हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है  कि, हमे किसानों को देश की शान बनाना है एवं किसानों की सामूहिक शक्ति को और बढ़ाना है। श्री सिंह द्वारा यह भी बताया गया कि अब तक 10 करोड़ से ज्यादा किसान परिवारों के बैंक खातों में डेढ़ लाख करोड़ से भी ज्यादा की रकम भेजी जा चुकी है। श्री सिंह द्वारा यह भी कहा गया कि छोटा किसान हमारे लिए बहुत ही जरूरी है। हमारा मंत्र है - छोटा किसान, बने देश की शान। उन्होंने यह भी बताया कि आने वाले वर्षों में हमें देश के छोटे किसानों की सामूहिक शक्ति को और बढ़ाना होगा एवं नई सुविधाएं देनी होंगी। श्री सिंह द्वारा यह भी जानकारी दी गयी कि हमारे प्रधानमंत्री ने कहा है कि, देश के 80 प्रतिशत से ज्यादा किसान ऐसे हैं, जिनके पास दो हेक्टेयर से भी कम जमीन है। उन्होंने कहा ‘देश में पहले जो नीतियां बनीं, उनमें छोटे किसानों पर जितना ध्यान केंद्रित करना चाहिए था, वह नहीं किया गया। इसलिए ही भारतीय जनता पार्टी की सरकार द्वारा अब इन्हीं छोटे किसानों को ध्यान में रखते हुए हर एक निर्णय लिए जा रहे हैं। श्री सिंह ने यह भी कहा कि अबतक गांवो में स्व-सहायता समूहों के माध्यम से 8 करोड़ से अधिक महिलाएं जुड़़ी हैं और वह एक से बढ़कर एक उत्पाद बनाती हैं और इनके उत्पादों को देश में और विदेश में बड़ा बाजार मिले, इसके लिए अब सरकार ई-कॉमर्स मंच तैयार करेगी। श्री सिंह ने विपक्षी पार्टियों के नेताओं पर बरसते हुये कहा कि, विपक्ष मोदी सरकार की जनहितकारी नीतियों से हताश और निराश हो चुका है, विपक्षी दलों के पास अब कोई भी मुद्दा नहीं है, जिसको लेकर वह जनता के बीच में जाए। अतः इन दलों द्वारा किसान आंदोलन जैसे मनगढ़ंत आंदोलन को बढ़ावा देने का प्रयास किया जा रहा है, जिसमे किसानों की जगह विपक्ष के कार्यकर्ता और समर्थक राजनैतिक हित साधने के लिए तमाशा खड़ा कर रहे हैं,  लेकिन देश की जनता सब कुछ जानती है, और जनता 2022 के विधानसभा चुनावों में विपक्षी दलों को इसका जवाब फिर से भारतीय जनता पार्टी की सरकार बना कर देगी। इसी क्रम में पार्टी के जिलाध्यक्ष प्रवीण कुमार गुप्ता ने किसान सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि, मोदी सरकार द्वारा अब देश की नीतियों में किसानों को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जा रही है एवं प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत अब तक 1 लाख 60 करोड़ रुपये किसानों को सीधे उनके बैंक खाते में दिए गए हैं। प्रवीण गुप्ता द्वारा यह भी जानकारी दी गई कि कोरोना काल में ही 2 करोड़ से अधिक किसान क्रेडिट कार्ड जारी किए गए हैं। जिसमें से अधिकतर छोटे किसानों के लिए हैं। केन्द्र की मोदी सरकार हो या प्रदेश की योगी सरकार दोनों के लिए किसान हित सर्वोपरि है। इस किसान सम्मेलन में नवनियुक्त क्षेत्रीय महामंत्री किसान मोर्चा यादवेंद्र सिंह, अंजनी सिंह, वरिष्ठ नेता हौसला प्रसाद उपाध्याय, अरविंद सिंह, सुनील कुमार गुप्त, दुर्गविजय राय, गनेश सिंह, बजरंगी सिंह आदि नेताओ ने सम्बोधित किया। कार्यक्रम का संचालन जिला उपाध्यक्ष आनंद प्रताप सिंह ने किया। इस अवसर संतोष सिंह, राकेश मिश्र, संगीता द्विवेदी, नूपुर अग्रवाल, राधेश्याम सिंह, आनंद सिंह रैकवार, रोली सिंह, सत्यमित्र सिंह, इंद्रदेव प्रसाद, हेमंत राय, सुब्बाराव भारती, मयंक मद्धेशिया, सुनील यादव, कृष्ण कांत राय, मनीष मद्धेशिया, अभिषेक राय, मुकेश सिंह, कन्हैया तिवारी, बबलू ठठेरा सहित सैकड़ों लोग उपस्थित रहे।