----- तीखा तीर -----

                                              

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

जी  ऐस  टी  से  हो  गया 

व्यवसाय का बंटा धार

सरकारी वसूली चल पड़ी

लोग मर रहे बीच मझधार 

-----  वीरेन्द्र  तोमर