टीम इंडिया के पूर्व कोच रहे अनिल कुंबले की एक बार फिर हो सकती है वापसी

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

संयुक्त अरब अमीरात और ओमान में खेले जाने वाले आईसीसी टी-20 विश्व कप के बाद टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री का कार्यकाल सामाप्त हो जाएगा। इसके बाद बीसीसीआई को नए कोच की तलाश है। ऐसा कहा जा रहा कि टीम इंडिया के पूर्व कोच रहे अनिल कुंबले की एक बार फिर वापसी हो सकती है। खबरों के मुताबिक कुंबले ने मुख्य कोच बनने के लिए अपनी सहमति प्रकट की है। 

समाचार एजेंसी एएनआई से एक सूत्र ने  बात करते हुए कहा, यह बात किसी से छुपी नहीं है कि अनिल कुंबले ने मुख्य कोच के रूप में अपने पहले कार्यकाल में बेहतर काम किया था। अब यह पूर्व कप्तान कुंबले पर निर्भर करता है कि वह दूसरी बार टीम इंडिया के कोच बनेंगे या नहीं। 

अनिल कुंबले ने साल 2017 में भारतीय क्रिकेट टीम के हेड कोच पद से इस्तीफा दे दिया था। उस समय ऐसी कई खबरें आई थीं कि कप्तान विराट और कोच कंबले के बीच अनबन है। जिसके बाद बीसीसीआई ने रवि शास्त्री को टीम इंडिया का कोच बनाया था। अब टी-20 विश्व कप 2021 के बाद रवि शास्त्री का कार्यकाल समाप्त होने जा रहा है। 

साल 2016 में अनिल कुंबले को भारतीय क्रिकेट टीम का मुख्य कोच बनाया गया था। उनके रहते टीम इंडिया 2017 में चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पहुंची थी। हालांकि फाइनल में भारत को पाकिस्तान के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। वहीं अगर कुंबले की बात की जाए तो वह मौजूदा समय में आईपीएल टीम पंजाब किंग्स के मुख्य कोच हैं। ऐसा कहा जा रहा है कि बीसीसीआई ने कुंबले से संपर्क करने से पहले श्रीलंका के महेला जयवर्धने से संपर्क किया था। 

भारतीय क्रिकेट टीम के मौजूदा कप्तान विराट कोहली ने हाल ही में टी-20 अंतरराष्ट्रीय से कप्तानी छोड़ने का एलान किया है। उन्होंने कहा कि वह संयुक्त अरब अमीरात और ओमान में खेले जाने वाले टी-20 विश्व कप के बाद टी-20 की कप्तानी छोड़ देंगे। विराट और शास्त्री की जुगलबंदी जगजाहिर है। जब 2017 में शास्त्री को भारत का हेड कोच बनाया गया तो उसका समर्थन विराट कोहली ने भी किया था। 

आईसीसी टी-20 वर्ल्ड कप के बाद रवि शास्त्री मुख्य कोच के पद से इस्तीफा दे सकते हैं। गार्जियन के दिए साक्षात्कार में शास्त्री ने कहा था कि मैं सब कुछ हासिल कर चुका हूं, टेस्ट रैंक में भारत का लंबे समय तक नंबर एक पर रहना, दो बार ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीतना, इंग्लैंड में टेस्ट मैच जीतना, एक कोच के तौर पर यह मेरे लिेए बहुत है।