चचेरे भाई प्रिंस को बचाने में बढ़ी चिराग पासवान की मुश्किलें

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

पटना: दुष्कर्म मामले में आरोपी लोक जनशक्ति पार्टी के सांसद प्रिंस राज पासवान के बाद चचेरे भाई चिराग पासवान की भी मुश्किलें बढ़ गई हैं। दरअसल, उन्हें भी रेप मामले में आरोपी बनाया गया है। आरोप है कि चिराग पासवान को महिला के साथ दुष्कर्म की जानकारी थी और उन्होंने सबूत मिटाने में प्रिंस राज का साथ दिया है। 

मामला बढ़ता देख बुधवार को चिराग पासवान का बयान सामने आया है। उन्होंने मीडिया से मुखातिब होते हुए कहा कि मैं पहले से ही कह रहा हूं मुझे मामले की जानकारी थी। मैंने जनवरी में दोनों पक्षों की बात सुनी थी। मैं पहला व्यक्ति था, जिसने यह सुझाव दिया था कि इस मामले के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई जाए। मैं कोई जांच एजेंसी नहीं हूं। मैं अभी भी न्याय के पक्ष में हूं। जो भी दोषी हो उसे सजा मिले। 

लोक जनशक्ति पार्टी के सांसद और चिराग पासवान के चचेरे भाई प्रिंस राज पासवान के खिलाफ दिल्ली के कनॉट प्लेस थाने में दुष्कर्म मामले में एफआईआर दर्ज कराई गई थी। एफआईआर में चिराग पासवान का भी जिक्र है। जानकारी के अनुसार पीड़ित युवती ने लगभग तीन महीने पहले कनॉट प्लेस थाने में प्रिंस के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई थी लेकिन तब से अब तक मामले में एफआईआर दर्ज नहीं हुई। अब अदालत के आदेश के बाद कनॉट प्लेस थाने ने प्रिंस पासवान के खिलाफ 9 सितंबर को एफआईआर दर्ज की है। पीड़िता ने एफआईआर में आरोप लगाया है कि दुष्कर्म के दौरान उसका वीडियो भी बनाया गया था। उसे वीडियो वायरल करने की धमकी देकर चुप रहने के लिए कहा जा रहा था। उस पर पुलिस में शिकायत न करने के लिए दबाव बनाया जा रहा था।

पीड़िता ने एफआईआर में कहा है कि वह 15 जनवरी को चिराग से मिलने गई थी और उसने ये बात उन्हें भी बताई थी लेकिन उन्होंने इस शिकायत पर ध्यान नहीं दिया। बाद में चिराग ने पीड़िता को किसी तरह की शिकायत करने से भी मना किया था। पीड़िता का आरोप है कि चिराग ने पार्टी अध्यक्ष के पद पर रहते हुए भी इस मामले में संज्ञान नहीं लिया था।

प्रिंस पासवान पीड़िता द्वारा लगाए गए आरोपों से इनकार कर चुके हैं। पीड़िता का आरोप है कि वह लोजपा की सदस्य रह चुकी है। उसके साथ बेहोशी की हालत में यौन शोषण किया गया था। खबर है कि खुद प्रिंस पासवान की तरफ से भी इस मामले में एक एफआईआर दर्ज कराई जा चुकी है। प्रिंस ने अपने एफआईआर में दावा किया है कि युवती ने उन पर झूठे आरोप लगाए हैं। प्रिंस ने इस मामले में 17 जून को ट्वीट कर भी अपने खिलाफ लगे आरोपों को गलत बताया था।