कृषक गोष्ठी एवं कृषि निवेश मेले का आयोजन

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

सहारनपुर। कृषि सूचना तंत्र के सुदृढ़ीकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम के अंतर्गत विकासखंड नांगल परिसर में कृषक गोष्ठी एवं कृषि निवेश मेले का आयोजन कृषि विभाग द्वारा किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि प्रणव कुमार प्रतिनिधि ब्लाक प्रमुख नागल द्वारा फीता काटकर किया गया। कार्यक्रम में पवन विश्वकर्मा एडी द्वारा कृषि विभाग द्वारा संचालित समस्त योजनाओं के बारे में विस्तार से कृषकों को जानकारी दी फसल अवशेष प्रबंधन के महत्व की जानकारी देते हुए वेस्ट डी कंपोजर घोल तैयार करने की विधि तथा उसका प्रयोग कैसे करना है विस्तार से बताया मृदा स्वास्थ्य बनाए रखने हेतु फसल चक्र अपनाने की सलाह दी। यशवीर सिंह सैनी द्वारा फसलों को दीमक से बचाव की विस्तार से जानकारी तथा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए फसल बीमा कराने की अपील की रबी फसल के लिए फसल बीमा कराने की अंतिम तिथि 31 दिसंबर है जबकि खरीफ फसलों में बीमा कराने की अंतिम तिथि 31 जुलाई है खरीफ की फसलों के लिए प्रीमियम की दर दो परसेंट व रबी फसलों के लिए 1.5ः कर सको से ली जाती है। वीरेंद्र कुमार वैज्ञानिक कृषि विज्ञान केंद्र द्वारा तोरिया व सरसों की वैज्ञानिक खेती के बारे में विस्तार से बताते हुए कर सको से अनुरोध किया कि तिलहनी फसलों में सल्फर का अत्यधिक महत्व है इसलिए 2 कुंतल प्रति हेक्टेयर की दर से जिप्सम का प्रयोग करना चाहिए 15 से 20 दिन में थिनिंग अवश्य करा दें। उर्वरक प्रबंधन एवं सिंचाई प्रबंधन की विस्तार से जानकारी दी गेहूं की फसल में बीज शोधन भूमि शोधन का महत्व बताया तथा लाइनों से गेहूं की बुवाई सीड ड्रिल द्वारा करने की सलाह दी गेहूं की उन्नत प्रजातियों की ही बुवाई की जाए सभी बीजों पर 50ः का अनुदान दिया जा रहा है। विनोद कुमार  द्वारा उर्वरकों की पहचान तथा जैविक उर्वरकों के बारे में विस्तार से बताया जैविक उर्वरको के प्रयोग करने की विधि बताते हुए कहा कि एक कल्चर पैकेट अजय टोबक्टर आधा लीटर पानी वह 50 ग्राम गुड़ का घोल बनाकर 10 किलो बीज शोधित करने पर बुवाई करें नर्सरी में 3 किलो कल्चर पैकेट 10 लीटर पानी में घोलकर पौधे की जड़ डिप करके रोपाई करें या जुताई के समय 10 किलो कल्चर पैकेट प्रति हेक्टेयर खेत में बिखेर कर प्रयोग करें उपेंद्र कुमार एडीओ कृषि द्वारा धान की फसल में लगने वाले किट  व बीमारियों की पहचान बताते हुए उपचार भी बताया तथा सिंचाई प्रबंधन धान में कैसे करें विस्तार से बताया श्री अजय कुमार त्यागी द्वारा पौधे में आवश्यक पोषक तत्वों की कमी के लक्षण तथा उसका निदान कैसे करें कृषकों को समझाया मृदा नमूना लेने की विधि बताई। अमित कुमार चौबे द्वारा ग्रामीण स्वरोजगार योजना में उनके केंद्र माटकी झरौली मेंयुवकों को रोजगार हेतु दिए जाने वाले प्रशिक्षण की विस्तार से जानकारी दी गुरुजी त अन्नसंपदा कृषक उत्पादक संगठन द्वारा एफपीओ द्वारा कराए जा रहे कार्यक्रमों की विस्तार से जानकारी दी मुख्य अतिथि श्री प्रणव कुमार प्रतिनिधि ब्लाक प्रमुख नागल द्वारा सभी कर सको से अपील की कि वैज्ञानिको वह अधिकारियों द्वारा बताई गई तकनीकी अपनाकर लाभ उठाएं तथा समूहव एपीओ बनाकर अनुदानित योजनाओं का लाभ उठाएं कार्यक्रम में 220 से अधिक महिला व पुरुष उपस्थित थे। प्रमुख रूप से सुभाष सोमपाल मोहन अंकुर मैन पाल सिंह सुनील शास्त्री जी मनीष कुमार अजय त्यागी आदि उपस्थित थे कार्यक्रम का संचालन विनोद कुमार द्वारा किया गया तथा अध्यक्षता श्री संदीप कुमार द्वारा की गई।