तालिबान के हाथों में गया जन्नत सा अफगानिस्तान, देखिए सबसे खूबसूरत जगहें

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

अफगानिस्तान में आज तालिबान ने पूरी तरह के कब्जा कर लिया है। ऐसे में अफगानिस्तान का नाम आते ही हर किसी के मन में खूब-खराबे व लड़ाई की झलक सामने आने लगती है। मगर क्या आप जानते हैं कि अफगानिस्तान भी दुनिया के खूबसूरत देशों में गिना जाता है? यहां की प्राकृतिक सुंदरता व ऐतिहासिक इमारते किसी का भी मन अपनी ओर आकर्षित करने का काम करती है। ऐसे में आज हम आपको अफगानिस्तान की 7 आकर्षण का केंद्र मानी जाने वाली बेहद खूबसूरत जगहों के बारे में बताते हैं...

पामीर माउंटेन

सेंट्रल एशिया स्थित पामीर माउंटेंस अफगानिस्तान की खूबसूरत व मशहूर जगहों में से एक है। ऐसे में ये पर्यटकों द्वारा काफी मशहूर टूरिस्ट डेस्टिनेशन्स है। यह खूबसूरत जगह हिमालय और तियान शान, सुलेमान, हिंदू कुश, कुनलुन और कराकोरम की पर्वत श्रृंखलाओं के बीच में आती है।

बंद-ए-आमीर नेशनल पार्क

बंद-ए-आमीर नेशनल पार्क में पहुंचना थोड़ा रहता है। मगर अफगानिस्तान के शहर बामियान से होकर यहां पर आसानी से जाया जा सकता है। बता दें, यहां पर जाने के लिए गुरुवार दोपहर और शुक्रवार सुबह हफ्ते में सिर्फ दो दिन तक मिनी वैन की सुविधा मिलती है।

बामियान के बुद्ध

यह अफगानिस्तान के मध्य भाग का शहर है। यहां पर अधिक संख्या में बौद्ध धर्म के लोग रहते हैं। बामियान के बुद्ध एक मल्टी कल्चर डेस्टिनेशन से दुनियाभर में मशहूर है। बता दें, इसकी नक्कशी में भारतीय, चीनी, फारसी, तुर्की, ग्रीक आदि की परंपराओं का अनोखा संगम देखने को मिलता है।

मीनार-ए-जाम

मीनार-ए-जाम एक 65 मीटर ऊंची इमारत है, जिसे देखकर हर कोई हैरान रह जाता है। कहा जाता है कि यह स्मारक घुरिद साम्राज्य के ऐतिहासिक काल के समय शहर में बने स्मारकों में एक बेहद खूबसूरत व ऊंचा मीनार है। इसे बनाने में बेहद ही शानदार नक्काशी की गई है। ऐसे में यह यात्रियों के आकर्षण का मुख्य केंद्र है।

बाग-ए-बाबर

बाग-ए-बाबर अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में स्थित एक खूबसूरत बाग है। कहा जाता है कि इसे मुगल शासक बाबर ने बनवाया था।

हेरात नेशनल म्यूजियम

अफगानिस्तान में हेरात नेशनल म्यूजियम भी है। कहा जाता है कि इसे पहले तोड़ दिया गया था। मगर फिर पर्यटकों को अफगानिस्तान के इतिहास दर्शाने के लिए इसे दोबारा तैयार करवाया गया। इससे पहले इस म्यूजियम को काला इक्तियारुद्दी या एलेक्जेंडर के गढ़ के रूप में जाना जाता था।

ब्लू मॉस्क्यू

अफगानिस्तान में बनी ब्लू मॉस्क्यू यानि मस्जिद धार्मिक स्थल होने के साथ पर्यटकों के आकर्षण का मुख्य केंद्र है। इस मस्जिद में हजरत अली के शरीर को दफनाया गया था। ऐसे में इसे हजरत अली मजार भी कहा जाता है। यह मस्जिद नीले संगमरमर से तैयार की गई है। यहां हर समय सफेद कबूतरों से भरी रहने के कारण बेहद ही खूबसरत नजर आती है।