बच्चों के बीच नशीली दवाओं एवं मादक पदार्थों के सेवन से बचाव के लिए संचालित होगा अभियान

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

‘‘एक युद्ध नशे के विरूद्ध’’ 

बहराइच । बच्चों के बीच नशीली दवाओं और मादक पदार्थो के सेवन की रोकथाम और अवैध तस्करी से बचाव हेतु ‘‘एक युद्ध नशे के विरूद्ध’’ अभियान के सफल संचालन के उद्देश्य से कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी डॉ. दिनेश चन्द्र ने सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिया कि जनपद के समस्त शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर की परिधि में किसी प्रकार के नशीले पदार्थों यथा बीड़ी, पान, तम्बाखू, गुटखा, मादक पदार्थो इत्यादि के वितरण एवं बिक्री पर लागू प्रतिबन्धों को पूरी कड़ाई के साथ अमली जामा पहनाया जाय। 

जिलाधिकारी डॉ. चन्द्र ने औषधि निरीक्षक को निर्देश दिया कि श्रेणी-एक्स व एच के अन्तर्गत सभी बिकने वाली दवाओं का चिन्हाकन कर, उन्हें मेडिकल स्टोर के बाहर दीवाल पर लिखवाये जाने के साथ-साथ सभी मेडिकल स्टोरों पर इन साइड व आउट साइड सी.सी.टी.वी. कैमरा भी स्थापित कराया जाय। आदेशों का पालन न होने की स्थिति में सम्बन्धित के विरूद्ध धारा 133 के तहत सक्षम स्तर से नोटिस भी जारी कराये जाने के साथ-साथ समिति द्वारा सम्बन्धित औषधि विक्रेता के लाइसेंस के निरस्तीकरण की कार्यवाही अमल में लायी जाय। जिलाधिकारी ने सभी सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश दिया कि बच्चों के बीच नशीली दवाओं और मादक पदार्थो के सेवन की रोकथाम के सम्बन्ध में विभागीय कार्ययोजना तैयार कर 02 दिवस के अन्दर जिला प्रोबेशन अधिकारी के कार्यालय को उपलब्ध करा दें।

इस अवसर पर सीडीओ कविता मीना, अपर पुलिस अधीक्षक कुंवर ज्ञानन्जय सिंह, नगर मजिस्ट्रेट अनिल कुमार सिंह, उप जिलाधिकारी नानपारा राम आसरे वर्मा, सीएमएस डा. ओ.पी. पाण्डेय, जिला आबकारी अधिकारी प्रग्लभ लावानियां, बीएसए अजय कुमार, जिला प्रोबेशन अधिकारी विनय कुमार सिंह सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी मौजूद रहे।