जूही चावला ने फिर बताया 5 जी मोबाइल टेक्नॉलजी को खतरनाक

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क  

बॉलिवुड की दिग्गद ऐक्ट्रेस जूही चावला पिछले दिनों अपनी फिल्म नहीं बल्कि अलग ही कारण से चर्चा में हैं। जूही चावला ने दिल्ली हाई कोर्ट में 5 जी मोबाइल नेटवर्क के खिलाफ याचिका दायर करते हुए कहा था कि इससे होने वाले रेडिएशन से इंसानों और जानवरों की जान को खतरा है। इसलिए इस पर रोक लगानी चाहिए। जूही की इस याचिका को कोर्ट ने खारिज करते हुए पब्लिसिटी स्टंट बताया था और जूही सहित 2 अन्य लोगों पर 20 लाख रुपये का फाइन ठोक दिया था। अब जूही चावला ने अपना एक लगभग 15 मिनट का वीडियो शेयर किया है और दावा किया है कि उनकी यह याचिका पब्लिसिटी स्टंट नहीं था। जूही ने अपने ऑफिशल इंस्टाग्राम अकाउंट पर वीडियो शेयर करते हुए एक बार फिर दावा किया है कि 5 जी मोबाइल टेक्नॉलजी से इंसानों और पशु-पक्षियों की जान को खतरा है। इस वीडियो को शेयर करते हुए जूही ने लिखा, श्यह वक्त की बात है। मैं आपको फैसला करने दूंगी कि क्या यह पब्लिसिटी स्टंट था। जूही ने अपने वीडियो में कहा कि वह तकनीकी विकास के खिलाफ नहीं हैं लेकिन सरकार और अधिकारियों को बताा चाहिए कि यह टेक्नॉलजी सुरक्षित है। इसके लिए जूही ने अपने कई तरह के तर्क भी रखे हैं। जूही ने कहा कि जून के महीने में कोर्ट में उनके साथ जो भी हुआ उससे उन्हें झटका लगा। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के एक किसानों के समूह ने उनके समर्थन में और उन पर लगाए गए जुर्माने के लिए 10 हजार रुपये की रकम भी इकट्ठी की थी।