अरविंद केजरीवाल ने PM मोदी से की चिपको आंदोलन के प्रणेता सुंदरलाल बहुगुणा को भारत रत्न देने की मांग

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क 

दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री से की मांग की है कि मशहूर पर्यावरणविद सुंदरलाल बहुगुणा को मरणोपरांत भारत रत्न दिया जाए. केजरीवाल ने कहा, "इससे पूरे देश को खुशी होगी. पूरा देश उन्हें चाहता है. पूरे देश को सुंदरलाल बहुगुणा जी पर गर्व है." दिल्ली विधानसभा में सुंदर लाल बहुगुणा के पोट्रेट का अनावरण करते हुए सीएम केजरीवाल ने ये बातें कहीं. उन्होंने कहा कि बहुगुणा जी को भारत रत्न दिलाने के लिए हम पीएम मोदी को चिट्ठी लिखेंगे.

उत्तराखंड के निवासी सुंदरलाल बहुगुणा पर्यावरणविद रहे हैं. उन्हें दूसरे सर्वोच्च अलंकरण पद्म विभूषण से पहले ही सम्मानित किया जा चुका है. सुंदरलाल बहुगुणा ने पेड़ संरक्षण के लिये चर्चित 'चिपको आंदोलन' की शुरूआत की थी. इस साल 21 मई को सुन्दरलाल बहुगुणा का देहांत हो गया था.

गांधीवादी विचारों के पोषक रहे बहुगुणा ने उत्तराखंड के जंगलों को बचाने के लिए 1970 के दशक में चिपको आंदोलन चलाया था. तब उन्हें पूरी दुनिया में पहचान मिली थी. उनका जन्म 9 जनवरी 1927 को टिहरी जिले के मरोड़ा गांव में हुआ था. 13 साल की उम्र में ही उनके जीवन की दिशा तब बदल गई थी, जब वो अमर शहीद श्रीदेव सुमन के संपर्क में आए थे. वो बाल्यकाल में ही आजादी के आंदोलन में कूद पड़े थे.