फैमिली संग दार्जिलिंग की इन जगहों पर जाएं घूमने

युग जागरण न्यूज़ नेटवर्क

हर साल लोग अपनी पसंदीदा जगहों पर घूमने जाते हैं। लेकिन अमूमन देखा जाता है कि लोग ज्यादातर अपने दोस्तों संग घूमने का प्लान बनाते हैं। कभी पहाड़ों पर तो कभी गोवा के बीच पर, लगभग हर साल लोग अपने दोस्तों संग इन जगहों पर घूमने जाते हैं। लेकिन लोग अपने परिवार संग घूमने नहीं जा पाते हैं, और जो लोग अपने परिवार के साथ घूमने का सोचते भी हैं तो वे जगह को लेकर उलझन में रहते हैं। ऐसे में अगर आप भी अपने परिवार संग घूमने की सोच रहे हैं, तो आप दार्जिलिंग घूमने जा सकते हैं। ये एक हिल स्टेशन है, जिसे पहाड़ों की रानी भी कहा जाता है। हर साल यहां काफी संख्या में पर्यटक पहुंचते हैं। कोलकाता से लगभग 600 किलोमीटर की दूरी पर स्थित ये जगह काफी खूबसूरत है। तो चलिए आपको यहां की कुछ ऐसी जगहों के बारे में बताते हैं, जहां आप घूमने जा सकते हैं। तो चलिए जानते हैं इन जगहों के बारे में।

कुर्सोंग

कुर्सोंग एक छोटा हिल स्टेशन है जो अपनी खूबसूरती के लिए जाना जाता है। हर साल देश के कोने-कोने से पर्यटक यहां पहुंचते हैं, और अपने साथ कई अच्छी यादें लेकर लौटते हैं। यहां पहाड़ों पर आपको बादल नजर आ जाएंगे, इन्हें देखकर आपको ऐसा लगेगा जैसे आप इन्हें पकड़ सकते हैं। ये नजारा हर किसी को अपनी ओर आकर्षित करता है। कुर्सोंग पहुंचने के लिए आपको सिलीगुड़ी से लगभग 50 किलोमीटर के आसपास का सफर तय करना पड़ता है।

लेप्चाजगत

ये दार्जिलिंग में स्थित एक छोटा सा गांव है, जिसकी शहर से दूरी लगभग 15 किलोमीटर के आसपास है। शहरों के शोर-शराबे से दूर यहां आप काफी सुकून भरे पल बिता सकते हैं। यहा आप अपने परिवार संग पिकनिक पर जा सकते हैं। यहां का शांत वातावरण और सुहावना मौसम हर किसी को पसंद आता है।

जोरपोखरी

जोरपोखरी दार्जिलिंग से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। यहां आप सुकून भरे पल बिता सकते हैं, जो आपको अच्छा एहसास कराएंगे। यहां झील भी है, जिसके किनारे बैठकर आप अपने परिवार संग समय बिता सकते हैं। हर साल यहां काफी पर्यटक पहुंचते हैं।

मिरिक

मिरिक की खूबसूरती और सुंदरता को देखने के लिए दूर-दराज से हर साल सैलानी पहुंचते हैं। परिवार संग समय बिताने के लिए ये सबसे सही जगह है। यहां आपको चाय के बागान, संतरों के बगीचे और यहां की मिरिक झील देखने को मिल जाएगी। जहां आप अपनी फैमिली संग लुत्फ उठा सकते हैं।



Popular posts
मुझ पर दोस्तों का प्यार, यूँ ही उधार रहने दो |
Image
चिट्टियां कैसे लिखी जाती थी
Image
राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वाधान में व प्रभारी जिला जज/ अध्यक्ष विधिक सेवा प्राधिकरण के मार्गदर्शन में आजादी अमृत महोत्सव हुआ कार्यक्रम
Image
70 साल की उम्र में UP विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष सुखदेव राजभर ने ली अंतिम सांस, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, अखिलेश यादव ने जताया शोक
Image
असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा, रोज़गार और कल्याणकारी योज़नाओं का लाभ उठाने ई-श्रमिक पोर्टल पर पंजीकरण मील का पत्थर साबित होगा
Image